पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60494.39-0.43 %
  • NIFTY18022.2-0.5 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

फर्रुखाबाद में एसआईटी को नहीं मिला कोई सुराग:17 दिन बाद भी नहीं पता चला कि जेल में तमंचा कैसे पहुंचा, जेल अधीक्षक बोले- जांच अभी चल रही है

फर्रुखाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्रुखाबाद में जेल में हुई हिंसा में अभी तक नहीं हो सका कोई खुलासा। - Money Bhaskar
फर्रुखाबाद में जेल में हुई हिंसा में अभी तक नहीं हो सका कोई खुलासा।

फर्रुखाबाद में जेल में हुए हंगामे की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया था। इस मामले को 17 दिन हो चुके हैं। लेकिन अब तक एसआईटी किसी नतीजे तक नहीं पहुंच सकी है। अब तक यह भी पता नहीं चल सका है कि जेल में तमंचा कहां से आया था। अधिकारियों ने कहा कि जांच अभी जारी है।

अवैध वसूली और बीमार बंदियों का इलाज न करवाना बना कारण
जिले की जेल में 7 नवंबर को बंदियों ने साथी की अस्पताल में मौत के बाद पूरी जेल हाईजैक कर ली थी। जिसमें जेलर और डिप्टी जेलर की पिटाई भी की गयी थी। बाद में पुलिस ने बल प्रयोग किया, तब कहीं जाकर बंदी शांत हुए। घटना के पीछे जेल के बंदियों की अवैध वसूली और बीमार बंदियों का सही से इलाज ना कराना भी प्रमुख कारण रहा।

डीआईजी जेल आकर बताएंगे- जांच में क्या निकला
जेल में बंदी शिवम राठौर के पेट में गोली लगी। तो हड़कंप मच गया। अपनी करनी छुपाने के लिए लगभग डेढ़ घंटे घायल सौरभ को जेल के भीतर रखा। बाद में उसको इलाज के लिए भेजना पड़ा और उसकी मौत हो गई। एसआईटी के सदस्य व वरिष्ठ जेल अधीक्षक प्रमोद शुक्ला ने बताया कि जांच अभी चल रही है। जेल में तमंचा बरामद के मामले में अभी तक क्या हुआ इस संबंध में जल्द डीआईजी जेल आकर अवगत कराएंगे।

खबरें और भी हैं...