पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फर्रूखाबाद में 174 बेटियों के खातों में नहीं पहुंचे रुपये:10 जून को हुए थे मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह, प्रत्येक के खाते में भेजे जाने हैं 35 हजार रुपये

फर्रूखाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री सामूहिक योजना के दौरान होता विवाह। - Money Bhaskar
मुख्यमंत्री सामूहिक योजना के दौरान होता विवाह।

फर्रुखाबाद में 174 बेटियों के खातों में रुपये नहीं पहुंचे। 10 जून को 10 जून को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत शादी के बंधन में बंधी थीं। 174 बेटियों के खाते में 35-35 हजार रुपये पहुंचनी थी लेकिन, यह धनराशि अब तक नहीं पहुंची है। शासन के निर्देश हैं कि विवाह वाले दिन ही खातों में धनराशि पहुंच जाए।

10 जून को सातनपुर मंडी में 109 और कायमगंज में 65 बेटियों का विवाह कराया गया था। एक बेटी के विवाह पर सरकार 51 हजार रुपये खर्च करती है। इनमे से 16 हजार रपये शादी में खर्च करती है। बाकी 35 हजार रुपये खातों में भेज दिया जाता है। पूरा आयोजन समाज कल्याण विभाग की देखरेख में कराया जाता है। शासन के निर्देश है कि विवाह वाले दिन देर रात से सुबह तक बेटी के खाते में धनराशि पहुंच जानी चाहिए। मगर अधिकारियों की लापरवाही की वजह से 16 दिन बीतने के बाद भी किसी भी बेटी के बैंक खाते में रुपए नहीं पहुंचे हैं।

कमालगंज थाना क्षेत्र के गांव बीबीपुर के प्रमोद ने अपनी बेटी रचना और सुगंधा का विवाह किया था। उन्होंने बताया अभी तक खातों में धनराशि नहीं आई है। जहानगंज के महमदपुर अमूल्य निवासी हेमराज ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी प्रिया की शादी की थी। खाते में अब तक रुपए नहीं आए हैं। अधिकारी भी कुछ नहीं बता रहे हैं, पता नहीं कब पैसा आएगा।

जिला समाज कल्याण अधिकारी राजीव लोचन मिश्र ने बताया कि कुछ ब्लॉकों से कन्याओं के खातों का विवरण नहीं आ सका है। इस कारण रुपए नहीं पहुंच पाए हैं। जिम्मेदारों को शीघ्र ही विवरण देने के लिए कहा गया है। इस सप्ताह रुपए पहुंच जाएंगे। ईओ रविंद्र कुमार ने बताया कि अवकाश पर चले जाने से पहले चेक बना दिए थे पालिकाध्यक्ष के हस्ताक्षर होने हैं। शीघ्र हस्ताक्षर हो जाएंगे। उनकी कोशिश है कि सोमवार को कन्याओं के खातों में रुपए पहुंच जाएं।