पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अतिक्रमण की पैमाइश सही ना होने पर भड़के दुकानदार:अमृतपुर पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा, दुकानदार का आरोप- प्रशासन कर रही पक्षपात

अमृतपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पैमाइश सही ना होने पर हुआ बवाल अतिक्रमण को लेकर बुलडोजर को रोका गया। उपजिलाधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। कस्बा चौराहे पर दोपहर करीब 11:00 बजे बुलडोजर दुकानों में चला। जो कि केवल 2 घंटे चलने के बाद बहादुर निवासी तुसोर के दुकान और मकान को बुलडोजर ने 86 फीट की पैमाइश पर गिरा दिया। इस दौरान गौरीशंकर गोविंद सुधीर डॉ शिवेंद्र के दुकाने बुलडोजर ने तोड़ दी। वहीं दूसरी तरफ पूर्व प्रधान उपदेश गुप्ता वर्तमान प्रधान प्रदीप गुप्ता की दुकान पर 72 फुट की पैमाइश की गई। इसी दौरान एक दर्जन दुकानदार भड़क गए और सड़क पर भीड़ लेकर पहुंच गए जहां पर मौके पर थाना अध्यक्ष ने मामला शांत किया।

दुकानदार ने आरोप लगाया, किया गया पक्षपात
अमृतपुर तहसील राजेपुर थाना क्षेत्र कस्बा में दुकानदारों का आरोप था कि उनकी दुकानों तरफ 86 फुट की पैमाइश कर चिन्हित किया गया और बुलडोजर से गिरा दिया गया। प्रधान की तरफ 72 फुट ही पैमाइश लेखपाल श्याम बाबू ने मोटी रकम लेकर पैमाइश कर बुलडोजर नहीं करवाया। मौके पर तहसीलदार संतोष कुशवाहा नक्शा खोला लेकिन दुकानदार इस बात पर तैयार नहीं हुए जिसके बाद तिराहे तक बुलडोजर पहुंचने के बाद अतिक्रमण को रोक दिया गया। कस्बा में भी बुलडोजर से अतिक्रमण नहीं हटाया गया।

पीडब्ल्यूडी विभाग जेई ने कहा दुकानदारों में आक्रोश है
पीडब्ल्यूडी विभाग जेई अंकित कुमार ने तत्काल उप जिला अधिकारी को फोन से पूरी जानकारी दी तो उपजिलाधिकारी ने अतिक्रमण को कहा कि अतिक्रमण नहीं है दुकानदारों में आक्रोश रहा है। मौके पर तहसीलदार संतोष कुशवाहा पीडब्लूडी जेई अंकित लेखपाल शायम बाबू थाना अध्यक्ष दिनेश कुमार आदि लोग मौजूद रहे। अतिक्रमण को लेकर दूसरे दिन नोकझोंक के बाद अतिक्रमण पर लगाई गई।

खबरें और भी हैं...