पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एटा में जेल में स्मैक पहुंचाने वाले को किया गिरफ्तार:कैदी से मुलाकात के बहाने स्मैक की डिलीवरी करने आया था युवक, 4.5 ग्राम स्मैक बरामद

एटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एटा जिला कारागार में जेल प्रशासन की सतर्कता से मादक पदार्थ की तस्करी को नाकाम कर दिया। एटा जेल में एनडीपीएस एक्ट के बंद एक आरोपी को मुलाकात के बहाने से स्मैक पहुंचाने की कोशिश की गयी। लेकिन उससे पहले कि स्मैक की खेप जेल में बंद बंदी तक पहुंच पाती उससे पूर्व ही जेल अधिकारियों ने तलाशी के दौरान स्मैक देने आये युवक को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।

जिला जेल के बाहर तैनात पुलिसकर्मी।
जिला जेल के बाहर तैनात पुलिसकर्मी।

एटा जेल के अधीक्षक अमित चौधरी ने बताया कि जेल की थ्री लेयर चेकिंग के दौरान मुलाकात करने आये मोहम्मद अरमान को जेल कर्मचारियों ने पकड़ लिया था। उसकी तलाशी लेने पर पता चला कि वो एक टेल्कम पाउडर के डिब्बे में सिल्वर फॉइल में 4.5 ग्राम स्मैक पाउडर लेकर अंदर जा रहा था। अरमान को जेल मे प्रवेश करते समय थ्री लेयर चेकिंग सिस्टम की व्यवस्था मे दूसरी लेयर की चेकिंग मे पकड़ लिया गया।

एटा जेल के अधीक्षक अमित चौधरी।
एटा जेल के अधीक्षक अमित चौधरी।

जेल के वार्डेन चंद्र मोहन और गेट प्रभारी प्रवेंद्र ने दोष सिद्ध बंदियों पप्पू और विजयपाल के सहयोग से स्मैक तस्कर को पकड़ लिया और फिर जेल अधीक्षक ने पुलिस को बुलाकर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। 4.5 ग्राम स्मैक टेलकम पाउडर के डब्बे मे सिल्वर फोइल से कवर करके अरमान नाम का युवक जेल मे पहले से ही एनडीपीएस एक्ट मे बंद निखिल सक्सेना को देने के लिए लाया था।

जेल में एनडीपीएस एक्ट में बंद कैदी निखिल सक्सेना इससे पूर्व भी एनडीपीएस एक्ट में जेल जा चुका है और वो स्मैक लेने का आदी भी है। उसी की मांग पर अरमान जेल के अंदर स्मैक की सप्लाई देने पहुंचा था। आरोपी अरमान के खिलाफ जेल अधिकारियों ने कोतवाली नगर एटा में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कारागार उसको जेल भिजवा दिया है।