पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एटा के सभी मदरसों में गूंजा राष्ट्रगान:उत्तर प्रदेश सरकार के आदेशों का हुआ पालन, मदरसा संचालक बोले- हम तो पहले से ही कर रहे थे राष्ट्रगान

एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश के बाद एटा जनपद के मदरसों में पहले दिन ही राष्ट्रगान की गूंज सुनाई दी। उत्तर प्रदेश सरकार एवम उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद के मदरसों में राष्ट्रगान को अनिवार्य करने के आदेश के बाद आज एटा जनपद के मदरसों में रियल्टी चेक किया गया। इस दौरान मदरसों में राष्ट्रगान का गायन होता मिला।

यहां के कई मदरसों में पूर्व से ही राष्ट्रगान गाया जा रहा है। एटा के मदरसा संचालकों ने प्रत्येक मदरसे में राष्ट्रगान के गायन को अनिवार्य कर देने के प्रदेश सरकार के निर्णय का स्वागत किया है। मदरसों में बच्चों को राष्ट्रगान पूरा याद है। एटा के मदरसा फात्मा स्लामिया उच्च आलिया स्कूल एवं मदरसा बरकातिया स्लामिया अरबिक स्कूल एटा में प्रदेश सरकार के प्रत्येक मदरसे में राष्ट्रगान को अनिवार्य कर दिए जाने के बाद आज पहले दिन शिक्षण कार्य शुरू होने से पहले बच्चों ने राष्ट्रगान गाया।

कक्षा 1 से 12 तक छात्र ग्रहण करते हैं शिक्षा

मदरसा फातिमा स्लामिया की की प्रधानाचार्या यास्मीन ने बताया कि इस मदरसे की स्थापना के समय 2001 से ही अनिवार्य रूप से राष्ट्रगान गाया जा रहा है। उन्होंने राष्ट्रगान को मदरसों में अनिवार्य किए जाने के प्रदेश सरकार के निर्णय का स्वागत किया। इस मदरसे में कक्षा 1 से 12 तक के छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

मदरसे की प्रधानाचार्या यास्मीन ने मदरसों में राष्ट्रगान को अनिवार्य किए जाने के उत्तर प्रदेश सरकार के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि इससे बच्चों में देश प्रेम की भावना बलवती होगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शिक्षण संस्थान में राष्ट्रगान होना चाहिए। मदरसा बरकातिया स्लामिया अरबिक स्कूल किदवई नगर एटा में भी आज प्रदेश सरकार के निर्णय का पालन करते हुए राष्ट्रगान का गायन किया गया। यहां के प्रबंधक मोहम्मद इरफान ने मदरसों में राष्ट्रगायन अनिवार्य किए जाने के प्रदेश सरकार के निर्णय का स्वागत किया।

उन्होंने बताया कि वे 2014 से ही मदरसा स्थापना के समय से ही मदरसे में प्रतिदिन राष्ट्रगान का गायन करवाते हैं। उनके मदरसे के प्रत्येक छात्र को राष्ट्रगान याद है। उन्होंने कहा कि यही हमारी गंगा जमुनी तहजीब है, हमारे लिए देश सर्वोपरि है।

खबरें और भी हैं...