पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Etah
  • The Matter Of Breaking The Dargah Of Baba Muleshah Caught Fire, 7 member SP Delegation Reached Etah, Said Will Report To Akhilesh Yadav, Will Raise The Issue In The Assembly

बाबा मुल्लेशाह की दरगाह तोड़ने के मामले ने पकड़ा तूल:एटा पहुंचा सपा का 7 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल, बोले- अखिलेश यादव को देंगे रिपोर्ट, विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा

एटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सपा के प्रतिनिधिमंडल ने तोड़ी गई दरगाह को मौके पर जाकर देखा। - Money Bhaskar
सपा के प्रतिनिधिमंडल ने तोड़ी गई दरगाह को मौके पर जाकर देखा।

एटा में दरगाह तोड़े जाने के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 7 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को एटा भेजा।

सोमवार को प्रतिनिधिमंडल ने तोड़े गए मकान और दरगाह का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि इसकी जांच रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को सौंपेंगे। वहीं,इस मामले में प्रशासनिक अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

सपा के प्रतिनिधिमंडल ने तोड़ी गई दरगाह को देखा और अपनी जांच रिपोर्ट तैयार की।
सपा के प्रतिनिधिमंडल ने तोड़ी गई दरगाह को देखा और अपनी जांच रिपोर्ट तैयार की।

सपा का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को एटा पहुंचा। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा बुलडोजर से तोड़ी गई बाबा मुल्लेशाह की दरगाह और उसके बगल में तोड़े गए मकान का निरीक्षण किया। इसके साथ ही प्रतिनिधि मंडल ने दरगाह के केयरटेकर प्रेमपाल सिंह, सोनू कुमार और आसपास के लोगों से बातचीत की।

इस दौरान बेघर महिलाओं और पुरुषों ने दर्द बयां किया। सोनू कुमार ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि जिला प्रशासन ने बिना नोटिस दिए ही मकान पर बुलडोजर चला दिया।

रविवार को प्रशासन की टीम दरगाह से सटे मकान के अवैध कब्जे को तोड़ने पहुंची थी।
रविवार को प्रशासन की टीम दरगाह से सटे मकान के अवैध कब्जे को तोड़ने पहुंची थी।

सपा के प्रतिनिधिमंडल ने सांत्वना दी

सपा के प्रतिनिधिमंडल की अध्यक्षता कन्नौज के पूर्व सांसद और वर्तमान में दिबियापुर विधायक प्रदीप यादव ने की। इस दौरान उन्होंने रो रहीं महिलाओं और पुरुषों को ढांढस बताया। उन्होंने कहा कि दरगाह को बुलडोजर से तोड़ना गलत है। कोई भी धार्मिक स्थल नहीं तोड़ा जाना चाहिए। सभी की आस्था का सम्मान होना चाहिए। इस जमीन का नक्शा भी पास था। 38 साल पहले सारे कानूनों का पालन कराकर मकान बनाया गया था। इसके बाद भी बुलडोजर चला दिया गया। यह अन्याय है।

रविवार को प्रशासन की टीम ने बुलडोजर चलाकर बाबा मुल्लेशाह की दरगाह को तोड़ दिया था।
रविवार को प्रशासन की टीम ने बुलडोजर चलाकर बाबा मुल्लेशाह की दरगाह को तोड़ दिया था।

विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा

विधायक प्रदीप ने कहा कि जांच रिपोर्ट वे राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को सौपेंगे। दरगाह को बुलडोजर से ध्वस्त करने के मामले को विधान सभा मे भी उठाएंगे। सपा के 7 सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल में दिबियापुर विधायक प्रदीप यादव, किसनी विधायक बृजेश कठेरिया, जसराना विधायक सचिन यादव, पूर्व एमएलसी असीम यादव, समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहम्मद फहद, समाजवादी छात्रसभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष नेहा यादव और जिलाध्यक्ष परवेज जुबैरी मौजूद रहे।

बाबा मुल्लेशाह की दरगाह तोड़ने के पहले कुछ इस तरह की दिखती थी।
बाबा मुल्लेशाह की दरगाह तोड़ने के पहले कुछ इस तरह की दिखती थी।

दरगाह पर चला दिया था बुलडोजर

एटा के सिविल लाइन स्थित प्रेमपाल सिंह के मकान के अवैध कब्जे को तोड़ने के लिए रविवार को प्रशासन की टीम पहुंची थी। प्रेमपाल के मकान की दीवार से सटी 100 साल पुरानी मुल्लेशाह की दरगाह भी थी। प्रशासन की टीम ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान प्रेमपाल के मकान को तोड़ा। इसके साथ ही बुलडोजर ने बाबा मुल्लेशाह की दरगाह को भी जमीदोंज कर दिया था।

इस दौरान एडीएम प्रशासन आलोक कुमार भी मौके पर मौजूद थे। स्थानीय लोगों ने विरोध जताया था। तब एडीएम प्रशासन ने लोगों को आश्वासन दिया था कि सिर्फ अवैध कब्जे को तोड़ा जाएगा, दरगाह को कोई नुकसान नहीं होगा, लेकिन कुछ देर बाद टीम ने दरगाह पर भी बुलडोजर चलाकर उसे भी जमींदोज कर दिया था।

एटा नगर पालिका प्रतिनिधि राकेश गांधी ने भी प्रशासन की कार्रवाई पर आपत्ति जताई थी।
एटा नगर पालिका प्रतिनिधि राकेश गांधी ने भी प्रशासन की कार्रवाई पर आपत्ति जताई थी।

पालिका प्रतिनिधि और सभासद ने जताया था विरोध

इस मामले में एटा नगर पालिका प्रतिनिधि राकेश गांधी ने कहा कि बाबा मुल्लेशाह की दरगाह में लोगों की काफी आस्था है। गुरुवार को लोग चादरपोशी के लिए आते हैं। दरगाह को तोड़ना ठीक नहीं है। ऐसे मामलों से लोगों की भावनाओं को ठेस लगती है। मेरे विचार से यह ठीक नहीं है। वहीं, प्रेमपाल को भी अपनी बात रखने के लिए मौका देना चाहिए।

एटा नगर पालिका के सभासद रियाज अहमद ने भी प्रशासन की इस कार्रवाई पर नाराजगी जताई थी।
एटा नगर पालिका के सभासद रियाज अहमद ने भी प्रशासन की इस कार्रवाई पर नाराजगी जताई थी।

इसके अलावा सभासद रियाज अहमद ने कहा कि यहां पर लोग दरगाह पर चादर चढ़ाने आते हैं। लोगों की काफी आस्था है। प्रशासन ने यह गलत किया है। बिना नोटिस देकर कार्रवाई करना गलत है।