पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उदयपुर हत्याकांड को लेकर हिंदु युवा वाहिनी में रोष:एटा में कार्यकर्ताओं ने SDM को सौंपा ज्ञापन, कहा- राजस्थान सरकार बर्खास्त कर लागू हो राष्ट्रपति शासन

एटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उदयपुर हत्याकांड को लेकर देश भर में हिंदू संगठनों में रोष है। एटा में गुरुवार को हिन्दू युवा वाहिनी ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा है। ज्ञापन में राजस्थान सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की गई है। कहा कि नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले कन्हैया लाल के हत्यारों को फांसी दी जाए।

युवा वाहिनी ने प्रदर्शन की दी चेतावनी
हिन्दू युवा वाहिनी के संरक्षक दिलीप पचौरी ने कहा कि इस तरह हिंदू भाई की हत्या बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसा कृत्य करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। हत्यारों ने पीएम मोदी को भी धमकी दी थी। ऐसे लोगों को फांसी की सजा दी जाए।

ज्ञापन में कहा गया कि देश में संचालित मदरसों में सिर्फ कट्टर वादिता ही सिखाई जाती है। इसे बंद किया जाए। सरकार तत्काल प्रभाव से उनकी फंडिंग रोक दे। हिन्दू युवा वाहिनी कि एटा इकाई के जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि कन्हैया लाल के हत्यारों को फांसी न देने पर हिन्दू युवा वाहिनी सड़क पर उतरने को बाध्य होगी। उन्होंने राजस्थान सरकार को बर्खास्त करने की मांग की।

ज्ञापन सौंपने के दौरान कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।
ज्ञापन सौंपने के दौरान कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

सरकार को तुरंत लेना चाहिए एक्शन
दिलीप पचौरी ने कहा कि हत्यारे खुद स्वीकार कर रहे हैं कि उन्होंने हत्या की है। इसके बाद सरकार किस बात का इंतजार कर रही है। तत्काल हत्यारों को फांसी की सजा देनी चाहिए। जब भी किसी हिंदू भाई की हत्या होती है तो सभी लोग चुप हो जाते हैं, जो कि गलत बात है। इससे आतंक को बढ़ावा मिल रहा है।

खबरें और भी हैं...