पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एटा में काशीराम आवासीय कालोनी में जांच शुरू:कॉलोनी में रह रहे फर्जी लोगों की होगी जांच, 15 दिनों के भीतर देनी होगी रिपोर्ट

एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एटा जिले की काशीराम आवासीय कालोनियों की जांच शुरू कर दी गई है। इन कालोनियों में फर्जी तरीके से रह रहे लोगों की पहचान की जाएगी, इसके लिए एक टीम बनाई गई है जो 15 दिनों के अंदर अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपेगी।

दरअसल, जिलाधिकारी को शिकायत मिली थी कि जिले में बनी 5 काशीराम कॉलोनियों के बहुत से आवासों में अपात्रों ने कब्जा कर रखा है। इस शिकायत पर जिलाधिकारी एटा अंकित कुमार अग्रवाल ने चार सदस्यीय जांच टीम बनाई है। जांच टीम में अतिरिक्त उपजिलाधिकारी राम नयन, तहसीलदार एटा चंद्र प्रकाश सिंह, पीओ डूडा ललिता पाठक और नगर पालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी डॉ. दीप कुमार वार्ष्णेय शामिल हैं। ये टीम पूरे मामले की जांच करने के बाद 15 दिन के अंदर अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौपेंगी।

उल्लेखनीय है कि 2017 से ही इन काशीराम कालोनियों में बड़ी संख्या में अपात्र लोग कब्जा किए हैं। पात्र लोगों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। 2017 में भी यहां रह रहे अपात्र लोगों की जांच कराई गई थी तो उस समय 231अपात्र मिले थे। ये ऐसे लोग थे जो सरकारी सर्विस या व्यापार कर रहे थे और गुमराह करके काशीराम आवास हथिया लिया था। वर्तमान में भी काशीराम आवासीय कालोनी में अनेकों अपात्र लोग निवास कर रहे हैं। अधिशासी अधिकारी डॉ. दीप कुमार वार्ष्णेय कहते हैं कि इस मामले की जांच की जा रही है। शीघ्र ही इसकी रिपोर्ट जिला अधिकारी को सौंप दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...