पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जलेसर में पूर्व प्रधान की मौत के बाद पनपा आक्रोश:डीएम के आश्वासन पर करीब 20 घंटे बाद खुला जाम

जलेसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ते छः दिन पहले जमीन के विवाद में घायल हुए पूर्व प्रधान की आगरा के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। पूर्व प्रधान की मौत के शव को परिजन गांव लेकर आने के बाद लोगों में आक्रोश बढ़ गया। ग्रामीणों ने बीते शुक्रवार को अवागढ़-जलेसर मार्ग जाम कर दिया। जाम की सूचना पर सीओ, एसडीएम सहित चार थानो की पुलिस मौके पर पहुॅच गई। अधिकारियों के काफी प्रयास के बाद भी पुलिस जाम नहीं खुलवा सकी।

परिजन आगरा में पोस्टमार्टम कराकर शव लेकर शुक्रवार शाम को गांव पहुंच गए। घटना को लेकर परिजनों का आक्रोश बना हुआ है। शुक्रवार शाम 4.30 बजे से अवागढ़-जलेसर मार्ग पर लगा दिया गया। जाम की सूचना पर पहुॅचे एसडीएम अलंकार अग्निहोत्री व सीओ इरफान नासिर खांन सहित जलेसर, अवागढ़, सकरौली सहित अन्य थानो की पुलिस फोर्स मौके पर पहुॅच गयी। लेकिन ग्रामीणों द्वारा लगाये गये जाम को रात भर खुलवाने में अफसर नाकाम रहे।

शव रखकर परिजनों ने अवागढ़-जलेसर मार्ग किया जाम।
शव रखकर परिजनों ने अवागढ़-जलेसर मार्ग किया जाम।

आरोपियों पर गैंगस्टर लगाने की मांग कर रहे हैं लोग
शनिवार सुबह तक लोग सड़क पर जमे हुए हैं। वहां टेंट लगवा लिया है। जाम लगे हुए 16 घंटे से ज्यादा समय बीत गया है। अब एटा-आगरा मार्ग को जाम करने की योजना थी। आक्रोशित परिजन आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। वहीं मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर डीएम और एसएसपी भी पहुंच गए हैं। डीएम के आश्वासन पर करीब 20 घंटे बाद जाम खुला।

खबरें और भी हैं...