पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जलन से राहत पाने को नाली में लेटा बुजुर्ग, VIDEO:दो दिन से एटा मेडिकल कालेज में थे भर्ती, दवा लगाने को कहा तो डाॅक्टर ने निकाला बाहर

अलीगंज, एटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एटा के मेडिकल कालेज में भर्ती आग से झुलसे बुजुर्ग जलन से राहत पाने को नाली में लेट गए।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक अस्पतालों का दौरा कर मरीजों को बेहतर उपचार देने का निर्देश दे रहे हैं। लापरवाही बरतने पर कार्रवाई की भी चेतावनी दी जा रही है, लेकिन एटा मेडिकल कालेज में उनके निर्देशों को नजर अंदाज किया जा रहा है। रविवार को आग से झुलसे बुजुर्ग को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था, लेकिन वहां उन्हें सही से इलाज नहीं मिला। सोमवार सुबह वह जलन से राहत पाने के लिए नाली में लेट गए।

खाना बनाते समय झुलसे, एमसीएच विंग में थे भर्ती

अलीगंज के थाना जैथरा क्षेत्र के गांव गोसलपुर निवासी रामजीलाल रविवार को खाना बनाते समय झुलस गए थे। उन्हें मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। रामजीलाल का आरोप है कि मेडिकल कॉलेज की एमसीएच विंग में भर्ती किया गया था, जहां डॉक्टरों से दवा लगाने को कहा तो डॉक्टरों ने गार्ड को बुलाकर उन्हें धक्का मारते हुए बाहर निकाल दिया।

तीन घंटे तक नाली में पड़ा तड़पता रहा।
तीन घंटे तक नाली में पड़ा तड़पता रहा।

एक ग्लूकोज की बाेतल लगाई, दो दिन से नहीं मिला खाना

रामजीलाल ने बताया कि जब से भर्ती हुआ तब से सिर्फ एक बोतल ग्लूकोज लगाकर छोड़ दिया गया। कोई इलाज नहीं किया गया। जलन के कारण वह तड़प रहे थे। उसने मजबूर होकर नाली में लेट कर अपनी जलन को कम किया। रामजीलाल ने बताया कि 2 दिनों से खाना नहीं दिया गया है। न पीने को पानी और ना ही जलन कम करने के लिए शरीर में कोई दवा लगाई गई। 3 घंटे से नाली में लेटे वृद्ध पर किसी डॉक्टर की ना ही किसी कर्मचारी की नजर पड़ी।

एटा के मेडिकल कालेज में अव्यवस्थाओं का शिकार हुआ बुजुर्ग।
एटा के मेडिकल कालेज में अव्यवस्थाओं का शिकार हुआ बुजुर्ग।
खबरें और भी हैं...