पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनहोनी:तेज हवा से त्रिपाल बंधी दीवार गिरी दबकर दुल्हन के भाई की हुई मौत

अलीगंज /जमुईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खाना बनाने वाली जगह पर दीवार का मलवा। - Money Bhaskar
खाना बनाने वाली जगह पर दीवार का मलवा।
  • अलीगंज प्रखंड के हिलसा गांव में घर आए बारात को खाना खिलाते वक्त हुआ हादसा
  • बहन की डोली के साथ उठी भाई की अर्थी
  • घर आए रिश्तेदारों व पड़ोसियों ने शादी करा लड़की को किया विदा

अलीगंज प्रखंड के हिलसा गांव में शादी के दौरान दीवार गिरने से एक 15 वर्षीय युवक की मौत हो गई। बताया जाता है कि अलीगंज प्रखंड के हिलसा गांव में भुसडी यादव की इकलौती बेटी काजल कुमारी की शादी थी। बारात लखीसराय जिला के हलसी प्रखंड के बिल्ली गांव से आई थी। घर की महिलाएं दरवाजे पर पहुंचे दूल्हे का स्वागत गाल सेंकी की रश्म अदा कर रही थीं। तो पुरूष बारातियों के स्वागत में लगे थे। अपनी इकलौती बहन की शादी में भाई विकास भी गांव के लोगों के साथ मिलकर बारातियों को खाना खिलाने में सहयोग कर रहा था। बारातियों के पत्तल पर खाना परोसा भी नहीं गया था कि तभी ऐसी घटना घटी कि खुशी व उत्साह का माहौल मातम में बदल गया। गीत के बजाय महिलाओं के रोने-चीखने की आवाज से गूंजने लगी। बारातियों के लिए जहां खाना बनाया जा रहा था वहां पुराना एक दीवार गिर पड़ा। इस घटना में मंडप पर बैठी काजल कुमारी का 15 वर्षीय भाई विकास की मलवे में दबकर मौत हो गई। बताया जाता है कि विकास हलवाई के पास रखे पूरी को निकाल रहा था तभी उसपर दीवार गिर पड़ी और मलवे के ढेर में दबकर मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

बिना खाए ही लौट गए बाराती
हिलसा पंचायत के पूर्व सरपंच किशुन यादव की पोती व भुसडी यादव की बेटी की शादी धूमधाम से की जा रही थी। लेकिन दीवार गिरने की घटना में विकास की मौत ने खुशी व उत्साह के माहौल को मातम में बदल दिया। गम के माहौल में बाराती भी बिना खाना खाए उठ गए। घर के बाहर मृतक विकास का शव पड़ा था। परिजन बेसुध हो गए थे। तभी पड़ोसी व घर आए रिश्तेदार आगे आए और मंडप के बाहर किसी तरह रश्म अदा कर काजल की शादी कराई। साथ ही लड़की को विदा किया। इस घटना के बारे में जिसने भी सुना उसके जुवां से आह... निकल गई।

भोज के लिए बनी रसोई में पूरी लेने गया था विकास तभी हुआ हादसा

हिलसा गावं में भुसडी यादव अपनी बेटी की शादी की पूरी तैयारी कर रखी थी। बारातियों को खाना खिलाने से लेकर खाना बनाने की जगह भी अलग व्यवस्था थी। बताया जाता है कि खाना बनाने की जगह त्रिपाल लगाया गया था। जिसे बगल के दीवार से बांधा गया था। दिन भर की गर्मी के बाद सोमवार की रात 12 बजे तेज हवा चलने लगी। जिससे त्रिपाल उड़ने लगा। किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। मृतक विकास उस वक्त बारातियों को खिलाने के लिए पूरी ले रहा तभी हवा का दबाव बढ़ने पर कमजोर 8 फीट ऊंची दीवार विकास पर गिर पड़ा। जब तक लोग मलवे को हटाकर विकास को निकालते उसकी मौत हो चुकी थी। घटना के बाद हिलसा गांव में मातम पसरा है। सभी इस घटना से गमगीन हैं।

खबरें और भी हैं...