पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवरिया में 4 हत्यारोपी गिरफ्तार:24 जून को हुई थी बुजुर्ग की हत्या, 3 आरोपी पहले ही हो चुके गिरफ्तार; 7 आरोपी अभी भी फरार

देवरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देवरिया के तरकुलवा थाना क्षेत्र के मदारी पट्टी गांव निवासी एक बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में 14 आरोपियों में से 3 को पहले ही पुलिस जेल भेज चुकी है। वहीं अब पुलिस ने 4 और आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से न्यायालय ने उन्हें जेल भेजने का आदेश दिया।

जमीनी रंजिश में पीट-पीटकर हुई थी हत्या
बता दें, मदारी पट्टी गांव के रहने वाले 65 वर्षीय कालिका सिंह 24 जून शुक्रवार की रात 8:30 बजे के करीब शौच के लिए खेत की तरफ गए थे। इसी बीच पुरानी रंजिश को लेकर बदरी सिंह के परिवार वालों ने लाठी-डंडे से लैस होकर उन पर हमला बोल दिया। हमलावरों ने पीट-पीटकर उन्हें अधमरा कर दिया।

शोरगुल सुनकर कालिका सिंह के परिवार के रामकिशुन पहुंचे तो उन्हें भी हमलावरों ने घायल कर दिया। परिजन अचेता अवस्था में कालिका सिंह को CHC तरकुलवा ले गए, जहां हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज गोरखपुर के लिए रेफर कर दिया। मेडिकल कॉलेज ले जाते समय रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

14 लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस
इस मामले में मृतक के भाई हरिश्चन्द्र सिंह की तहरीर पर पुलिस ने गांव के ही रमेश, डेबा, रवि सिंह उर्फ जयबहादुर सिंह, मोनू उर्फ उदयराज, गूंजा और मनीषा, अर्चना देवी, बिमला देवी, चिंता देवी, सुमित्रा देवी, निधि सिंह, करिश्मा और राजन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

3 हत्यारोपी पहले ही जा चुके हैं जेल
इस मामले के आरोपी डेबा सिंह, बिमला देवी और गूंजा को पुलिस रविवार को ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। वहीं आज करिश्मा, निधि, चिंता देवी और सुमित्रा देवी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए उन्हें जेल भेज दिया है।

7 हत्यारोपी अभी भी फरार
गैर इरादतन हत्या के इस मामले में 14 अभियुक्तों में से 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है। वहीं इस मामले के 7 आरोपी अभी भी फरार हैं।थानाध्यक्ष टीजे सिंह ने बताया कि आरोपियों के संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। जल्दी ही बचे हुए अन्य सातों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।