पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवरिया में खेलों में छात्रों को भाग दिलाएं सरकारी स्कूल:जिला विद्यालय निरीक्षक ने कहा-खेल पढ़ाई का अहम हिस्सा

देवरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय - Money Bhaskar
जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय

देवरिया में अब माध्यमिक विद्यालयों के छात्र छात्राएं खेल आयोजनों में अधिकाधिक भाग ले सकेंगे। इस संबंध में निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने सभी जिलों के जिला विद्यालय निरीक्षक को चिट्ठी भेजी है। चिट्ठी के माध्यम से माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने आदेश दिए हैं कि खेल विभाग द्वारा जिला स्तर पर आयोजित की जाने वाली प्रतियोगिताओं में छात्र छात्राओं को प्रतिभाग कराएं।

साल में एक बार करवाए जाते हैं खेल
माध्यमिक स्कूलों में खेल गतिविधियां वैसी नहीं हो पा रही हैं जैसी होनी चाहिए। साल में एक बार प्रतियोगिता कराकर खेलों के नाम पर औपचारिकताएं पूरी कर दी जाती हैं। इस वजह से यहां नई प्रतिभाएं उभर नहीं पाती हैं। वहीं प्रतिभाशाली खिलाड़ी होते हैं उनकी प्रतिभा असमय दम तोड़ जाती है।
खेल शिक्षकों की उदासीनता भी है वजह
खेल शिक्षक भी वर्ष भर खेल गतिविधियों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। ऐसे में शासन ने निर्णय लिया है कि स्कूलों द्वारा जब खेल प्रतियोगिता हों। खेल निदेशालय द्वारा जितनी प्रतियोगिताएं आयोजित हों स्कूल प्रबंधन को चाहिए कि उसमें बच्चों को प्रतिभाग कराएं।

जिले और ब्लॉक स्तर पर खेल शिक्षक बनेंगे नोडल अधिकारी
माध्यमिक शिक्षा निदेशक की चिट्ठी के अनुसार छात्र छात्राओं को खेल निदेशालय द्वारा आयोजित खेल गतिविधियों में भाग दिलाने के लिए जिले और ब्लॉक स्तर पर खेल शिक्षकों को इसके लिए नोडल की जिम्मेदारी दी जाएगी। जिला विद्यालय निरीक्षक देवेन्द्र कुमार गुप्ता ने कहा कि उन्हें ऐसी किसी चिट्ठी की जानकारी नहीं है। हमारे यहां शैक्षिक कैलेंडर में ही पढ़ाई के साथ खेल गतिविधियां शामिल हैं। अगर इस आशय का पत्र मिलता है, तो इस पर अमल किया जाएगा।