पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवरिया में थानाध्यक्ष ने दिखाई दरियादिली:मंगलसूत्र नहीं लाने से नाराज दुल्हन ने किया था शादी से इंकार, थानाध्यक्ष ने कमी पूरी कर करवाई शादी

देवरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थानाध्यक्ष ने मौके पर पहुंचकर निभाई जिम्मेदारी - Money Bhaskar
थानाध्यक्ष ने मौके पर पहुंचकर निभाई जिम्मेदारी

देवरिया जिले के गौरी बाजार थाना क्षेत्र के एक गांव में वर पक्ष द्वारा मंगल सूत्र नहीं लाने से नाराज दुल्हन ने शादी से इंकार कर दिया। इस बात को लेकर वर वधू पक्ष में नाराज़ और मानने का दौर चल रहा था। इसकी सूचना किसी ने गौरी बाजार पुलिस को दी। थानाध्यक्ष ने बीट उपनिरीक्षक महेंद्र मिश्र को मौके पर भेजा तो उन्होंने बताया कि मंगल सूत्र के लिए बारात लौट रही है।

पहले पुलिस को देखकर भड़क गए थे दोनों पक्ष
थानाध्यक्ष विपिन मलिक ने महिला सिपाही और अन्य पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंचे तो बात बिगड़ गई थी। दोनों पक्ष शादी से इंकार कर रहे थे। थानाध्यक्ष ने कहा शादी होगी और जो कमी है वह मैं पूरा करूंगा।

मैं तुम्हारा भाई हूं, पूरी उम्र निभाउंगा रिश्ता

थानाध्यक्ष विपिन मलिक ने दोनों पक्षों को विश्वास में लिया और बाजार से मंगल सूत्र, मांग टीका, टॉप्स, नथिया मंगवाकर दिया। दोनों पक्ष खुश हो गए। बदलते दौर में जहां रिश्ते अपनी अहमियत खो रहे हैं वहीं थानाध्यक्ष की पहल से शादी टूटने से बच गई। लड़की भावुक हो गई। थानाध्यक्ष ने कहा मैं तुम्हारा भाई हूं तुम मेरी बहन। लड़की ने कहा मेरे पास फोन नहीं है। कोई दुःख होगा तो उसकी सूचना कैसे दूंगी। थानाध्यक्ष ने फौरन थाने की तरफ से 11 हजार रूपए कीमत का फोन दिया। सीयूजी नंबर दिया। कहा कि ट्रांसफर होते यह नंबर बदल जाएगा। इसलिए व्यक्तिगत नंबर भी दिया। कहा पूरी उम्र रिश्ते को निभाऊंगा।

थानाध्यक्ष विपिन मलिक की सूझबूझ से बच गई टूटने से शादी
थानाध्यक्ष विपिन मलिक की सूझबूझ से बच गई टूटने से शादी

क्षेत्र में हो रही थानाध्यक्ष की सराहना
थानाध्यक्ष विपिन मलिक मूलतः पश्चिमी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। उनके इस मानवीय पहल से पुलिस के प्रति लोगों का नजरिया बदला है वहीं उनकी पहल की क्षेत्रीय लोगों ने प्रशंसा की है।गौरी बाजार तैनाती से पहले विपिन मलिक खामपार, बनकटा, महुआडीह थाने के प्रभारी रह चुके हैं। सभी जगह इन्होंने अपने व्यवहार का लोहा मनवाया है।