पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवरिया में घरौनी का किया गया वितरण:कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा- घरौनी से राजस्व वादों में आएगी कमी

देवरिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देवरिया में स्वामित्व योजना के अंतर्गत आज मुख्यमंत्री द्वारा लखनऊ में घरौनी का वर्चुअली वितरण किया गया। इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण एलईडी के माध्यम से टाउन हॉल ऑडिटोरियम में कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही और सांसद डॉ. रमापति राम त्रिपाठी सहित जिला प्रशासन के अधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा, स्वामित्व योजना प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री द्वारा प्रारंभ की गई अत्यंत महत्वपूर्ण योजना है। प्रदेश में मार्च 2023 तक हर ग्रामवासी को घरौनी का अभिलेख प्राप्त हो जाएगा। घरौनी मिलने से संपत्ति पर उनके अधिकार को वैधता मिल जाएगी और भूमि विवाद में कमी आएगी।

लोगों को कोर्ट कचहरी का चक्कर लगाने से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि घरौनी मिलने के बाद लोगों को बैंकों से लोन प्राप्त करने में आसानी होगी, जिससे वे अपना स्वरोजगार, व्यवसाय और अन्य आवश्यक कार्य कर सकेंगे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सदर सांसद डॉ. रमापति राम त्रिपाठी ने कहा, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की वजह से लोगों को अपनी संपत्ति पर मालिकाना हक के दस्तावेज मिल रहे हैं। इससे उनके सम्पत्ति पर उनके अधिकार की पुष्टि के साथ ही आत्मसम्मान में वृद्धि होगी। राजस्व वादों में कमी के साथ ही लोगों को अपने आवास में रहने का अवसर मिलेगा।

पालिका अध्यक्ष ने किया संबोधित
नगर पालिका अध्यक्ष डॉ. अलका सिंह ने घरौनी प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाले सभी लाभार्थियों को बधाई दी और उनके सुखद भविष्य की कामना की। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने कहा, स्वामित्व योजना के लागू होने के बाद आबादी क्षेत्र में राजस्व विवादों में पर्याप्त कमी आएगी।

जिले में कुल 1,846 ग्रामों में घरौनी का वितरण होना है, जिनमें से 1,630 में ड्रोन सर्वे का कार्य हो चुका है। 315 राजस्व ग्रामों में घरौनी वितरण शत-प्रतिशत कर लिया गया है। उन्होंने आश्वस्त किया कि इस वर्ष के अंत तक योजना के तहत जिले के सभी अधिसूचित गांवों में घरौनी वितरण का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा।

एसडीएम सौरभ सिंह ने बताया कि सदर तहसील के कुल 266 ग्रामों में 37,172 घरौनी का वितरण किया जा चुका है। जिन लोगों को घरौनी का प्रमाण पत्र वितरित किया गया, उनमें ओम प्रकाश पारस, नेबुलाल सिंह, अतरुल निशा, राजेंद्र, सुदामा, रुखसाना खातून, रमाकांत, आफताब आलम, गणेश प्रसाद, बजरंगी, नागेंद्र, प्रभाकर, रामविलास आदि शामिल थे।