पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48432-0.52 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62988-1.1 %

चित्रकूट में अयोध्या से पहुंची यात्रा का हुआ स्वागत:भरत मिलाप मंदिर में पहुंचे संत-महात्मा, भरत यहीं से लेकर गए थे श्रीराम के खड़ाऊं

चित्रकूट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चित्रकूट में अयोध्या से पहुंची यात्रा का हुआ स्वागत। - Money Bhaskar
चित्रकूट में अयोध्या से पहुंची यात्रा का हुआ स्वागत।

चित्रकूट में अयोध्य की राम जन्मभूमि की यात्रा पहुंची। भरत मिलाप मंदिर यात्रा में आए लोगों का भव्य स्वागत किया गया। इसी जगह पर वनवास के दौरान भाग राम और उनके भाई भरत का मिलाप हुआ था। कहते हैं कि जहां-जहां पर लक्ष्मण और सीता जी के पैर पड़े वहां पत्थर पिघल गए थे।

संत बोले- बेहद पावन स्थल है चित्रकूट
जिले के कामदगिरि परिक्रमा मार्ग पर स्थिति भरत मिलाप मंदिर में अयोध्या से आए संत का स्वागत किया गया। बाद में उन्होंने बताया कि चित्रकूट एक बेहद पावन स्थल हैं।

यहीं से खड़ाऊं लेकर गए थे भरत
मान्यता है कि यहां पर भगवान राम ने वनवास के 14 सालों में से साढ़े 11 साल यहीं बिताए थे। बाद में उन्हें तलाशने उनके भाई भरत निकले। तो यहीं दोनों लोगों का मिलाप हुआ था। आज भी यहां दोनों के पैरों के निशान देखे जा सकते हैं। मान्यता तो यह भी है कि जिस जगह पर लक्ष्मण व सीता जी के कदम पड़ते थे। वहां पत्थर भी पिघल जाया करते थे। भरत जी के लाख समझाने के बाद भी भगवान राम नहीं माने। उन्होंने वनवास पूरा करने की बात कही। जिसके बाद यहीं से भरत श्री राम के खड़ाऊं लेकर चले गए थे।

खबरें और भी हैं...