पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Chitrakoot
  • 65 Lakh Tender Canceled In Chitrakoot: Tenders For Development Works Done In Paharipur Block, Action Taken After The Matter Went Viral On Social Media, Notice Issued

चित्रकूट में 65 लाख के टेंडर कैंसिल:पहाड़ीपुर ब्लॉक में हो चुके विकास कार्यों के डाले गए टेंडर, सोशल मीडिया पर मामला वायरल होने के बाद की गई कार्रवाई, नोटी जारी

चित्रकूट8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पहाड़ीपुर ब्लॉक में हो चुके विकास कार्यों के डाल दिए गए। - Money Bhaskar
पहाड़ीपुर ब्लॉक में हो चुके विकास कार्यों के डाल दिए गए।

चित्रकूट में 65 लाख के टेंडर कैंसिल किए हैं। दरअसल, पहाड़ीपुर ब्लॉक में हो चुके विकास कार्यों के डाल दिए गए। सोशल मीडिया पर मामला वायरल होने के कार्रवाई की गई। सभी को कारण बताओ नोटिस के साथ ही स्पष्टीकरण देने को कहा गया है।

बीते दिनों पहाड़ी विकासखंड के कई ग्राम पंचायतों में ऐसे कार्य के लिए ठेकेदारों की निविदाएं आमंत्रित कर दी गई, जो कार्य पूर्व में हो चुके थे। इन कार्यों के जरिए भ्रष्टाचार की योजना को अमलीजामा बनाने की पूरी तैयारी थी। इस दौरान क्षेत्र के कुछ जागरूक युवाओं द्वारा सोशल मीडिया के जरिए यह मामला उजागर कर दिया गया। जिस को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी ने तत्काल जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए।

खंड विकास अधिकारी की जांच में खुली पोल

पहाड़ी के खंड विकास अधिकारी धनंजय सिंह ने महुवा गांव के इंग्लिश मीडियम प्राइमरी स्कूल का निरीक्षण किया। जिसमें स्कूल में टाइल्स लगाने का कार्य पूर्ण पाया गया, जबकि निकाले गए टेंडर में इस कार्य के लिए निविदा आमंत्रित की गई है। जिसके बाद बीती 28 सितंबर को आमंत्रित की गई निविदाओं को निरस्त कर दिया गया है।

उन्होंने इस मामले में महुवा गांव के ग्राम विकास अधिकारी घनश्याम शुक्ला को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है। इसके अलावा उन्होंने महुआ गांव, औदहा, प्रसिद्धपुर,सिकरी सानी, अरछा बरेठी कई ग्राम प्रधान, रोजगार सेवकों को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

ब्लॉक प्रमुख बोले- गड़बड़ी करने वालों पर की जाएगी कार्रवाई

नवनिर्वाचित पहाड़ी ब्लाक प्रमुख सुशील द्विवेदी ने भी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश सरकार की भ्रष्टाचार मुक्त नीति के अनुरूप ही पारदर्शिता और गुणवत्ता के साथ विकास कार्य कराए जाएंगे। इसमें गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...