पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

चाइल्ड पोर्नोग्राफी मामले में CBI ने चंदौली में की छापेमारी:5वीं पास युवक से टीम ने की पूछताछ, आरोपी बोला- विदेश से लिंक आता है, क्लिक करने पर पैसे मांगे जाते हैं, फिर वीडियो चलने लगता है

चंदौली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
युवक से लखनऊ सीबीआई टीम पूछताछ करने पहुंची। - Money Bhaskar
युवक से लखनऊ सीबीआई टीम पूछताछ करने पहुंची।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी केस में चंदौली के मुगलसराय में लखनऊ की सीबीआई टीम ने छापेमारी की। सीबीआई के अफसरों ने युवक से आवश्यक पूछताछ के बाद उसका मोबाइल जब्त कर लिया है। चार घंटे तक सीबीआई की टीम युवक के घर में मौजूद रहे।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी के प्रसार को रोकने के लिए सीबीआई की ओर से एक मुकदमा दर्ज किया गया। जिसके बाद पोर्नोग्राफी से संबंधित ग्रुपों में जुड़े लोगों के यहां देशभर में छापेमारी की गई। इसी क्रम में सीबीआई लखनऊ के आठ सदस्य टीम निरीक्षक हेमंत राय के नेतृत्व में मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के लाठ नंबर-2 निवासी सूरज कुमार के घर पहुंची।

कई व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ा था युवक

टीम ने सबसे पहले पूरे घर की तलाशी ली। इसके बाद सूरज को बुलाकर उसके मोबाइल की जांच की। मोबाइल की गैलरी में कई अश्लील वीडियो मिले। इस तरह के कई व्हाट्सएप ग्रुप में भी उसका नंबर जुड़ा हुआ है। कक्षा पांच पास सूरज ने बताया कि दोस्ती के नाम पर उसको ग्रुप में जुड़ा गया था। इसके बाद उसे इस तरह के ग्रुप में विदेशी नंबरों के लिंक आते थे। जिसमें अश्लील वीडियो हुआ करते थे।

कुछ सेकेंड का होता है वीडियो

लिंक पर क्लिक करने के बाद उसमे चंद सेकेंड के वीडियों के एवज में रुपयों की मांग होती थी। उसने बताया कि एक या दो ही बार उसने लिंक पर क्लिक किया था। वहीं उसने कुछ दिनों पहले कई ग्रुपों को डिलीट भी किया था। पूछताछ के बाद सीबीआई की टीम सूरज का मोबाइल और चार्जर जब्त कर अपने साथ ले गई। स्थानीय पुलिस के अफसरों को इस मामले की भनक तक नहीं लगी। बाद में खबर लगने के बाद पुलिस भी युवक के घर पर आ गई। लेकिन तब तक टीम वापस लौट चुकी थी।

तेजी से फैल रहा है चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मामला

इंटनेट के जरिए चाइल्ड पोर्नोग्राफी का कारोबार काफी तेजी से फैल रहा है। चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। विदेशों में बैठे इस कारोबार के सरगना व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जोड़कर उन्हें बच्चों के अश्लील वीडियो दिखा रहे हैं। कुछ सेकेंड के वीडियो देखने के एवज में लोगों से पैसे भी लिए जाते हैं।

खबरें और भी हैं...