पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चंदौली में हड़ताल पर गए राइस मिलर्स:कहा- हमें कुटाई का कम भुगतान होता है, जबकि डीजल और बिजली बिल के दाम बढ़े हैं

चंदौली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ताल पर गए राइस मिलर्स। - Money Bhaskar
हड़ताल पर गए राइस मिलर्स।

चंदौली में चावल उद्योग में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले राइस मिलर्स हड़ताल पर चले गए हैं। सोमवार को जिले की सभी राइस मिलों में ताला लगाकर डिप्टी आरएमओ को चाबी सौंप दी गई है। आरोप लगाया गया है कि विभाग के नए नियमों के चलते मिलर्स को काफी क्षति उठानी पड़ेगी।

धान की कुटाई के बाद 67 प्रतिशत चावल की रिकवरी देना कभी संभव नहीं है। मिलर्स को पिछले 20 सालों से दस रुपए प्रति कुंतल कुटाई का भुगतान किया जाता है। जबकि डीजल और बिजली बिल की दरों में काफी इजाफा हुआ है।

अफसरों पर लगाया शोषण का आरोप

पूर्वांचल राइस मिलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष संजीव सिंह ने कहा कि धान की कुटाई 250 रुपए प्रति कुंतल किया जाता है। पुराना बकाया भुगतान के नाम पर अफसर मिलर्स का शोषण कर रहे हैं। सरकारी गोदामों में माल की अनलोडिंग और जांच के नाम पर भी मोटी रकम की डिमांड होती है। ऐसा नहीं करने वाले मिलर्स के ट्रक कई दिनों तक खड़े करा दिए जाते हैं।