पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चंदौली में प्रमोशन को लेकर रलकर्मियों का प्रदर्शन:आदेश के बाद भी ग्रुप डी के कर्मचारी नहीं बनाए गए गुड्स गार्ड, कार्य बहिष्कार कर दिया धरना

चंदौली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंदौली में प्रमोशन को लेकर रलकर्मियों का धरना प्रदर्शन। - Money Bhaskar
चंदौली में प्रमोशन को लेकर रलकर्मियों का धरना प्रदर्शन।

चंदौली में ग्रुप डी के रेल कर्मचारियों ने प्रमोशन का आदेश के बाद भी पालन न होने के चलते धरना प्रदर्शन किया है। उनका कहना है कि गुड्स गार्ड के पद पर उन्हें पदोन्नति मिल चुकी है। फिर भी उन्हें उनका पद और वेतन नहीं दिया जा रहा है। इसी के चलते उन लोगों ने कार्य बहिष्कार किया है। उनकी मांग है कि जब तक उनकी पदोन्नति नहीं होती और इस संबंध में उनको लिखित आश्वासन नहीं मिलता। तब तक धरना जारी रहेगा और इसके साथ ही वह क्रमिक अनशन भी करेंगे ।

परीक्षा पास करने पर करवाया गया था प्रशिक्षण
जिले के पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल डिवीजन में तैनात ग्रुप डी के 205 कर्मचारियों का 1 मार्च 2018 को पदोन्नति के लिए आवेदन लिया गया था। 20 सितंबर 2019 को गुड्स गार्ड के लिए रेल कर्मचारियों ने लिखित परीक्षा दी थी। 29 नवंबर 2019 को परीक्षा परिणाम घोषित किया गया और सभी पास कर्मचारियों को धनबाद में गुड्स गार्ड का प्रशिक्षण दिलाया गया । लेकिन कोरोना कॉल के कारण पदोन्नति और भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई थी।

रेल कर्मचारियों ने क्रमिक अनशन की दी चेतावनी
अब सब कुछ सामान्य हुआ तो रेल कर्मचारियों ने अधिकारियों से पदोन्नति के संबंध में बात की लेकिन कोई समुचित जवाब नही मिला। इस बात से आक्रोशित सैकड़ों की संख्या में रेल कर्मचारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल डिवीजन कार्यालय पहुंचे और कार्य बहिष्कार कर धरने पर बैठ गए। कर्मचारियों की मांग है कि 27 नवंबर 2021 से पहले उनको नए गुड्स गार्ड पर तैनात किया जाए और उनकी बहाली तत्काल की जाए। इस मांग को लेकर कर्मचारी धरने पर बैठ गए और कार्य बहिष्कार भी कर दिया । यही नही रेल कर्मचारियों ने क्रमिक अनशन की चेतावनी भी दी हैं ।

खबरें और भी हैं...