पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चंदौली के सिकटिया में जातीय हिंसा:भीम आर्मी के सदस्यों ने उठाई आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग, आंदोलन करने की दी चेतावनी

चंदौली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भीम आर्मी के सदस्यों ने डीएम से की मुलाकात। - Money Bhaskar
भीम आर्मी के सदस्यों ने डीएम से की मुलाकात।

चंदौली के सिकटिया में जातीय हिंसा के दौरान दलित युवक की हत्या के बाद जिले की राजनीति गरमा गई है। दलित जाति की राजनीति से जुड़ी पार्टिया मुद्दे को लेकर मुखर दिख रही है।

सोमवार को भीम आर्मी के लोगों ने डीएम और पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करके हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की। उन लोगों ने चेतावनी दी कि अगर जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई, तो कार्यकर्ता पूरे जनपद को बंद करके सड़क पर उतरेंगे। आंदोलन का नेतृत्व खुद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर करेंगे।

भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष शैलेश कुमार ने कहा कि हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी हो। परिवार को एक करोड़ रुपए का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए।

8 आरोपी हैं फरार

सिकटिया में हुए हत्याकांड में विशाल पासवान की मौत हो गई थी। मामले में दस लोगों के खिलाफ पुलिस ने हत्या सहित अन्य धाराओं में मुकदमा किया है। दो लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। लेकिन घटना में साजिशकर्ता के रूप में सपा के पूर्व विधायक के करीबी अमर जायसवाल उर्फ मोनू सहित कुल आठ लोग फरार हैं। इनकी गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच स्थित पुलिस की कई टीमें लगाई गई हैं।

खबरें और भी हैं...