पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चकिया में मनाया गया वीरांगना दुर्गावती बलिदान दिवस:मझवा विधायक ने फीता काटकर किया उद्घाटन, लोगों ने बढ़ चढ़कर लिया हिस्सा

चकियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चकिया नगर क्षेत्र में स्थित लक्ष्मी लान परिसर में गोंड समाज द्वारा वीरांगना महारानी दुर्गावती बलिदान दिवस समारोह को पूरे उत्साह के साथ मनाया गया। समारोह के माध्यम से समाज के वरिष्ठ लोगों ने समाज के प्रति जागरूकता व शिक्षा के प्रति सचेत किया।

जिसके बाद कार्यक्रम में शिरकत करने आये मिर्जापुर जनपद के मझवा विधायक डॉ. विनोद कुमार बिंद ने वीरांगना महारानी दुर्गावती के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित करने के साथ ही श्रद्धा सुमन अर्पित किया। वहीं विधायक ने समाज के लोगों से बेटे बेटियों को समान शिक्षा दिलाने का आवाहन किया। उन्होंने प्रमुख रूप से कहा कि शिक्षा से ही समाज को नई दिशा मिलेगी।

विधायक ने गिनाईं सरकार की योजनाएँ

शिक्षा से ही हम अपने अधिकारों को जान सकते है, जिसके साथ ही शिक्षित समाज का निर्माण कर सकते है आज समाज को एकजुट होकर वीरांगना महारानी दुर्गावती के पद चिन्हों पर चलने की आवश्यकता है। इस दौरान उन्होंने केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं और नीतियों का बखान करते हुए कहा कि सरकार पिछड़े वर्ग सहित अनुसूचित, आदिवासी, वनवासी समाज के उत्थान को लेकर लगातार कार्य कर रही है। जिसे लोगों ने खूब सराहा। समाज की ओर से क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार राय सहित अन्य प्रबुद्ध जनों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

यह भी जानना है अति आवश्यक

वही आज भी आदिवासी समाज जनपद में अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ रहा है जहाँ एक तरफ अन्य जनपदों में गोंड व खरवार जाती को अनसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र निर्गत किया जाता है वही जनपद चन्दौली में इन दोनों समाज के लोगो को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र बनाया जाता है जिससे कि इन समाज दोनों समाज के लोग को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, जब कि सरकार से बार बार दोनों समाज के लोगों द्वारा अनसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र बनाये जाने की मांग की जाती है।

इस दौरान कार्यक्रम में संयोजक मंडल डॉ कुंदन गोंड, कैलाश जायसवाल रामनाथ खरवार,चंदन गौंड प्रधान,इंदू देवी,कैलाश प्रसाद गोंड,रमापति सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...