पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चकिया में डीएम का औचक निरीक्षण:मरीजों से जाना सेवाओं का हाल, कर्मचारियों को लापरवाही पर लगाई फटकार

चकियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश के तहत मंगलवार को जिलाधिकारी ने संयुक्त जिला चिकित्सालय चकिया व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चकिया का औचक निरीक्षण किया। डॉक्टर और स्टाफ की उपस्थिति का जायजा लिया और स्वास्थ्य सेवाओं को भी परखा। उन्होंने अधीनस्थों के साथ जिला अस्पताल पहुंच कर और यहां पर जनरल वार्ड, ऑपरेशन कक्ष, नेत्र रोग विशेषज्ञ, पंजीकरण कक्ष, दवा वितरण कक्ष सहित विभिन्न वार्डों का गहनता से निरीक्षण किया।

सुबह आठ बजे जिला अस्पताल पहुंचे जिलाधिकारी सबसे पहले ओपीडी में पहुंचे। यहां चिकित्सकों के कमरों के बाहर लाइन में खड़े मरीजों से सुविधाओं और चिकित्सकों के बैठने की जानकारी ली। इस दौरान चिकित्सक व स्टाफ के कई कर्मचारी अस्पताल से नदारद मिले। इस पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी जताते हुए बिना बताए अस्पताल से नदारद रहने वाले चिकित्सक व स्टाफ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

रजिस्टर की जांच करते डीएम
रजिस्टर की जांच करते डीएम

एक दिन वेतन काटने के दिए निर्देश

अस्पताल से नदारद रहने वाले चिकित्सकों से स्पष्टीकरण तलब कर एक दिन की वेतन कटौती के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर को भगवान का रूप समझा जाता है। मरीज भटक रहे हैं और डॉक्टर मौजूद नहीं है। ऐसी लापरवाही अक्षम्य होगी। सभी डॉक्टर समय से आकर मरीजों की समस्याओं को देखें। निर्धारित समय तक कहीं भी बाहर नहीं रहेंगे। मरीजों को हर तरह से स्वास्थ्य चिकित्सा का लाभ मिलना चाहिए।

मशीनों की गुणवत्ता परखी
मशीनों की गुणवत्ता परखी

डीएम बोले- सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ज्यादातर लोगों तक पहुंचाएं

निरीक्षण के उपरान्त डीएम बोले कि सरकार की प्राथमिकता है कि स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ जनता को गुणवत्ता के साथ मिले। किसी भी दशा में मरीजों को बाहर की दवा न लिखी जाए। निःशुल्क दवा यदि न हो तो दवा जन औषधि केंद्र से ही उपलब्ध कराई जाए। निर्देशित कर कहा दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित रखें। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आटो एनएन लाइजर न्यू मशीन काफी दिनों से आने के बावजूद अभी तक चालू नही रखने पर कड़ी हिदायत देते हुए तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए।

मरीज से उसका हालचाल लेते डीएम
मरीज से उसका हालचाल लेते डीएम

मरीजों से जाना व्यवस्थाओं का हाल

डीएम ने निरीक्षण के दौरान ही भर्ती मरीजों से मिलने वाली सुविधाओं को भी जाना। दो तीन मरीजों से जानकारी लेने पर पाया कि व्यवस्थाओं में सुधार की जरूरत है। इस संबंध में भी तत्काल सुधार करने के आदेश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...