पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बुलंदशहर में विरोध के बाद बदला अनूपशहर सीट का प्रत्याशी:पहले राज्य मंत्री अनिल शर्मा के साले केके शर्मा को मिला था टिकट, अब होशियार सिंह मैदान पर

बुलंदशहर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
होशियार सिंह लड़ेगें अनूपशहर से चुनाव। - Money Bhaskar
होशियार सिंह लड़ेगें अनूपशहर से चुनाव।

बुलंदशहर में गठबंधन की तरफ से अनूपशहर विधानसभा पर एनसीपी की तरफ से बनाए गए उम्मीदवार को बदल दिया गया है। अब गठबंधन की तरफ से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर पूर्व विधायक होशियार सिंह को मैदान में उतारा गया है। बता दें कि जनपद की सात विधानसभा सीटों में बुलंदशहर सदर, स्याना और शिकारपुर विधानसभा सीटों पर रालोद की तरफ से, तो वहीं सिकंदराबाद, खुर्जा और डिबाई सीट पर सपा की तरफ से प्रत्याशी उतारे गए हैं।

कार्यकर्ताओं ने किया था खुला विरोध

वहीं अनूपशहर विधानसभा सीट पर एनसीपी की तरफ से योगी सरकार में राज्य मंत्री अनिल शर्मा के साले केके शर्मा को प्रत्याशी बनाया गया था। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रहे केके शर्मा की घोषणा के साथ ही उनका जबरदस्त विरोध शुरू हो गया था। सपा और रालोद के जिला स्तर के नेताओं और पदाधिकारी केके शर्मा की उम्मीदवारी का खुला विरोध करने लगे।

जाट नेता हैं होशियार सिंह

विरोध बढ़ता देख सपा ने पूर्व विधायक और क्षेत्र के कद्दावर जाट नेता होशियार सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है। होशियार सिंह साल 2002 में अनूपशहर विधानसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर जीते थे। 2004 में मुलायम सिंह की सरकार बनाने में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। 2017 का चुनाव उन्होंने राष्ट्रीय लोकदल के टिकट पर लड़ा था, लेकिन वो भाजपा प्रत्याशी से हार गए थे।

खबरें और भी हैं...