पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेधावी छात्रों को ढाई करोड़ की छात्रवृत्ति की घोषणा:चांदपुर में डॉ.अनिल सिंह ने पिता की पुण्यतिथि पर किया एलान, कहा- कोविड में परिजनों को खोने वालों को मुफ्त में शिक्षा

चांदपुर (बिजनौर)4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चांदपुर में भगवंत सिंह की पुण्यतिथि पर बीआईटी (भगवंत ग्रुप के चेयरमैन ने अपने संस्थानों में प्रवेश लेने वाले मेधावी छात्रों के लिए 2.5 करोड़ की छात्रवृत्ति देने की घोषणा की। वहीं कोविड में माता पिता को खोने वाले छात्रों को निशुल्क शिक्षा देने की बात कही।

भगवंत ग्रुप के चेयरमैन डॉ. अनिल सिंह ने अपने पैतृक गांव पाहुली में भगवंत फार्म हाउस पर बुधवार देर शाम पूज्य पिता स्वर्गीय युक्त भगवंत सिंह की 15वीं पुण्यतिथि मनाई। इस दौरान पिता की समाधि स्थल पर वार्षिक वैदिक हवन और विशाल भंडारे का आयोजन किया। जिसमें डॉ. अनिल सिंह की धर्मपत्नी आशा सिंह, पुत्र कुंवर विभांशु, विक्रम सिंह व पुत्र वधू अंजली सिंह एवं परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद थे।

पूर्व राष्ट्रपति के साथ किया है विदेशीय दौरा
डॉ. अनिल सिंह का जन्म बिजनौर के ग्राम पाहुली में हुआ है। मलेशिया में रहकर भारत सरकार के कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर कार्य करते हैं। इसके बाद भी उन्होंने अपने देश व गांव को नहीं भूला। पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ प्रतिनिधिमंडल में विदेशी दौरे का अपने क्षेत्र और अपने जनपद के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण कार्य कर चुके हैं।

डॉ. अनिल सिंह ने परिवार के साथ पिता को दी श्रद्धांजलि।
डॉ. अनिल सिंह ने परिवार के साथ पिता को दी श्रद्धांजलि।

कई जगहों पर काम करती है संस्थआ
बता दें कि भगवंत ग्रुप अंतर्गत भगवंत विश्वविद्यालय अजमेर, भगवंत ग्लोबल विश्वविद्यालय कोटद्वार उत्तराखंड आता है। जिसमें देश एवं विदेश के छात्र भी अध्ययनरत हैं। भगवंत ग्रुप के कई महाविद्यालय एवं कई अन्य उद्योग हैं। डॉ. अनिल सिंह ने कहा कि प्रत्येक बालिका, जो कक्षा 12 में अपने स्कूल में प्रथम स्थान प्राप्त करेगी। उस छात्रा को इंजीनियरिंग में निःशुल्क प्रवेश दिया जाएगा। बीए, बीएससी, बीकॉम में शकुंतला देवी डिग्री कॉलेज चांदपुर में प्रवेश लेने वाले छात्र एवं छात्राओं को शकुंतला देवी छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।

भगवंत ग्रुप ने छात्रों को 2.5 करोड़ की छात्रवृत्ति प्रदान करने की घोषणा की है। कहा कि कोविड में अपने माता पिता को खोने वाले छात्रों को भगवंत ग्रुप निःशुल्क शिक्षा देगा। भारतीय सीमा पर युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के परिवार के साथ भगवंत ग्रुप हमेशा साथ खड़ा है। ऐसे परिवारों के बच्चों की शिक्षा के लिए कुछ सीट आरक्षित कर नि:शुल्क प्रवेश दिया जाएगा।

चांदपुर की शकुंतला देवी डिग्री कॉलेज सहित तमाम संस्थानों के लिए घोषणा हुई है।
चांदपुर की शकुंतला देवी डिग्री कॉलेज सहित तमाम संस्थानों के लिए घोषणा हुई है।

भगवंत संस्था के नाम पर दिए जाते हैं अवॉर्ड
भगवंत ग्रुप एवं अन्य संस्थानों में उनके माता-पिता के नाम से अनेकों अवॉर्ड शिक्षकों को प्रदान किए जाते हैं। 10 साल की सेवा पूर्ण करने पर शकुंतला देवी लोक सर्विस अवॉर्ड, 15 साल की सेवा के लिए भगवंत सिंह विशिष्ट दीर्घकालीन सेवा अवॉर्ड, 20 साल की सेवा पूर्ण करने पर भगवंत रतन अवॉर्ड, शकुंतला देवी बेस्ट टीचर अवॉर्ड, शकुंतला देवी बेस्ट डेडिकेशन अवॉर्ड आदि हैं।

संस्था के सदस्यों ने भी दी भागीदारी
भगवंत इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के प्रांगण में संस्थान के निर्माता भगवंत सिंह की 15वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक डॉ. लोकेश बंसल, उप निदेशक डॉ. अजय गुप्ता , सह निदेशक डॉ. राघव मेहरा, सह निदेशक पुष्पनी वर्मा, रजिस्टार आदित्य शर्मा, एजीएम फाइनेंस ऑफिसर दुष्यंत कुमार ने भगवंत सिंह को श्रद्धांजलि दी।

खबरें और भी हैं...