पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो युवाओं की सराहनीय पहल:एक ही छत के नीचे मिलेगी हिंदी, इंग्लिश, उर्दू व अरबी की शिक्षा, चांदपुर का पहला ऐसा स्कूल बना 'एमटीए अरेबिक अकेडमी'

चांदपुर (बिजनौर)4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चांदपुर में अब एक ही छत के नीचे हिंदी, इंग्लिश, उर्दू, अरबी की शिक्षा मिलेगी। चेयरपर्सन पुत्र ने एमटीए अरेबिक एकेडमी का फीता काटकर शुभारंभ किया। केजी से पांचवीं तक के बच्चों को यहां पर हिंदी इंग्लिश उर्दू अरबी का प्रशिक्षण दिया जाएगा। साथ ही पढ़ाई में कमजोर बच्चों को फ्री एक्स्ट्रा कोचिंग भी दी जाएगी।

पूरा मामला बिजनौर जिले के चांदपुर कस्बे का है। कस्बे के मोहल्ला काजी सराय में दो युवाओं नवेद अंसारी और जाकिर ने सराहनीय पहल की है। एमटीए अरेबिक एकेडमी स्कूल की शुरुआत की है। जिसका शुभारंभ आज चेयरपर्सन पुत्र मोहम्मद अरशद अंसारी ने फीता काटकर किया।

बच्चों को एक ही छत के नीचे मिलेगी चारों भाषाओं की शिक्षा
दोनों युवाओं ने नगर के बच्चों के लिए एक ही छत के नीचे तमाम शिक्षाएं देने का बंदोबस्त किया है। इससे बच्चों को नई शिक्षा का आयाम मिलेगा। जिसमें इंग्लिश, हिंदी और उर्दू के साथ-साथ अरबी की शिक्षा भी दी जाएगी। अभी तक चांदपुर में इंग्लिश, हिंदी और उर्दू के तो बहुत से स्कूल थे, लेकिन बच्चों को अरबी की शिक्षा के लिए मदरसों में जाना पड़ता था।

युवक नवेद की फाइल फोटो।
युवक नवेद की फाइल फोटो।

इससे मुस्लिम बच्चों की शिक्षा पर भारी प्रभाव पड़ रहा था। ज्यादातर बच्चे जो मदरसे में पढ़ते थे, वे दुनियावी शिक्षा से मेहरूम रह जाते थे। जो बच्चे स्कूलों में पढ़ते थे, वे अरबी शिक्षा से महरूम रह जाते थे। दोनों युवाओं ने मुस्लिम बच्चों की शिक्षा को ध्यान में रखते हुए ऐसे स्कूल का शुभारंभ किया है, जो केजी से पांचवी तक के बच्चों को शिक्षा देगा।

युवक जाकिर की फाइल फोटो।
युवक जाकिर की फाइल फोटो।

एकेडमी में प्रवेश के लिए 500 रुपये निर्धारित
नावेज व जाकिर का कहना है कि हम एडमिशन लेने वाले पढ़ाई में कमजोर बच्चों को फ्री एक्स्ट्रा क्लासेस भी देंगे। कहा कि कुछ बच्चे इन भाषाओं से वंचित रह जाते थे। अब ऐसा नहीं होगा। एक ही छत के नीचे बच्चों को शिक्षा दीक्षा दी जाएगी। एकेडमी में एडमिशन शुल्क 500 रुपये है। केजी से कक्षा एक तक के बच्चों के लिए 200 रुपये तथा कक्षा दो से पांच तक के बच्चों के लिए 250 रुपये फीस निर्धारित है।

खबरें और भी हैं...