पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

औराई में जर्जर पंचायत भवन में संचालित राजकीय यूनानी अस्पताल:बिजली, पानी और शौचालय समेत मूलभूत सुविधाएं नहीं, मरीज और स्टाफ हो रहा परेशान

औराई, भदोही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जर्जर हालत में राजकीय यूनानी अस्पताल। - Money Bhaskar
जर्जर हालत में राजकीय यूनानी अस्पताल।

औराई में जिले का एक मात्र राजकीय यूनानी चिकित्सालय इन दिनों अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। जहां एक तरफ सरकार चिकित्सा और स्वास्थ्य पर अत्यधिक ध्यान देने का दावा कर रही है। वहीं दूसरी तरफ विभागीय अधिकारियों की लापरवाही से यूनानी चिकित्सालय को अपना खुद का भवन नसीब नहीं हो रहा है। मूलभूत सुविधाओं तक का अभाव है।

स्वास्थ्य कर्मियों को शौच के लिए जाना पड़ता बाहर

जीटीरोड माधोसिंह में दक्षिणी सर्विसलेन के पास राजकीय यूनानी चिकित्सालय कई सालों से पंचायत भवन में संचालित है। उस पंचायत भवन की स्थिति जर्जर हो चुकी है। चिकित्सालय में बिजली, पानी और शौचालय समेत कोई भी व्यवस्था नहीं है। ऐसे में चिकित्साकर्मियों को प्रसाधन के लिए खुले में बाहर जाना पड़ता है। लेकिन विभागीय जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं।

जानकारी देते मरीज।
जानकारी देते मरीज।

20 से 25 मरीज ही रोजाना आते अस्पताल

मरीज नारूलहक ने बताया कि चिकित्सालय की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। जिससे बहुत कम मरीज ही यहां आते हैं। वहीं विनोद सिंह ने कहा कि चिकित्सालय की दुर्व्यस्था को लेकर कई बार अधिकारियों से शिकायत की। लेकिन सुधार की ओर कदम नहीं बढ़ाए गए। चिकित्सा प्रभारी शाइस्ता यास्मीन ने बताया कि दिन में 20 से 25 मरीज आते हैं। अस्पताल में मेरे अलावा दो सहयोगी कर्मी रहते हैं।

मरीज ने अस्पताल की हालत की बयां।
मरीज ने अस्पताल की हालत की बयां।
चिकित्सा प्रभारी शाइस्ता यास्मीन ।
चिकित्सा प्रभारी शाइस्ता यास्मीन ।

डीएम को लिखा पत्र, जमीन की हो रही तलाश

वहीं डीविजनल अधिकारी वाराणसी डा. नेयाज अहमद ने बताया कि राजकीय यूनानी चिकित्सालय के विषय में डीएम को पत्र लिखा है। चिकित्सालय के लिए जमीन उपलब्ध नहीं है। जिससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। भूमि मिलते ही अस्पताल का कायाकल्प कराया जाएगा।