पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57696.46-1.31 %
  • NIFTY17196.7-1.18 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47361-0.07 %
  • SILVER(MCX 1 KG)606850.05 %

जिला अस्पताल के कमरे में बंद एक्सपायर दवाएं:बस्ती में CHC-PHC में दवाओं की कमी, रखे-रखे एक्सपायर हो गईं लाखों की दवाएं

बस्ती2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल के कमरे में बंद एक्सपायर दवाएं। - Money Bhaskar
जिला अस्पताल के कमरे में बंद एक्सपायर दवाएं।

बस्ती जिला अस्पताल में मरीजों में वितरित करने के लिए आई लाखों रुपए की दवाएं जिम्मेदारों की लापरवाही की भेंट चढ़ गईं। जिला अस्पताल के एक बंद कमरे में लाखों कीमत की एक्सपायर दवा बिखरी पड़ी हैं। कमरे के फर्श पर इन्हेलर, टैबलेट के पत्ते भारी मात्रा में बिखरे नजर आ रहे हैं और जिम्मेदार सो रहे हैं।

सीएचसी-पीएचसी में दवाओं का टोटा

बता दें कि एक ओर सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर गंभीर है। अस्पतालों में लगातार दवाओं की आपूर्ति कर रही है, ताकि गरीबों को मुफ्त में दवा मिल सके और उन्हें बेहतर इलाज मिल सके, लेकिन जिला अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से जो दवाएं गरीबों को मिलनी चाहिए, वह अस्पताल के कमरे में पड़ी-पड़ी एक्सपायर हो गईं। जिला अस्पताल के जिम्मेदारों ने यह भी जरूरी नहीं समझा कि अस्पताल में दवा ज्यादा मात्रा में है तो उसे आसपास के सीएचसी, पीएचसी पर जहां उस दवा की उपलब्धता नहीं होती है, उसे भेज दिया जाता।

दवाओं को डिस्ट्रॉय कराया जाएगा

लापरवाही की वजह से इन दवाओं का वितरण नहीं होने से लाखों की दवा पड़ी-पड़ी एक्सपायर हो गई। इस पूरे मामले से जिला अस्पताल प्रशासन पल्ला झाड़ते नजर आ रहा है। दवा वितरण के नोडल अधिकारी डॉ. राम प्रकाश ने बताया कि दवाओं का स्टॉक मिलाकर देखा जाएगा कि कैसी दवाएं हैं। एक कमेटी बनाकर दवाओं को डिस्ट्रॉय कराया जाएगा। उनका कहना है कि यह अधिकृत रूप से दवाओं का स्टोर नहीं था। जब दवाएं ज्यादा हो जाती थी तो उनको यहां रखा जाता था। मामले की जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...