पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौलाना के खिलाफ मुकदमा नहीं होने पर अनशन की चेतावनी:19 जून को प्रदर्शन के दौरान तौकीर रजा द्वारा पीएम पर अपमानजनक टिप्पणी का आरोप

बरेली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
19 जून को प्रदर्शन के दौरान तौकीर रजा द्वारा पीएम पर अपमानजनक टिप्पणी का आरोप। मुकदमा नहीं होने पर पंडित सुशील पाठक ने आमरण अनशन का किया ऐलान। - Money Bhaskar
19 जून को प्रदर्शन के दौरान तौकीर रजा द्वारा पीएम पर अपमानजनक टिप्पणी का आरोप। मुकदमा नहीं होने पर पंडित सुशील पाठक ने आमरण अनशन का किया ऐलान।

बरेली के इस्लामिया ग्राउंड में 19 जून को नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर हुए प्रदर्शन के दौरान IMC प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमान जनक टिप्पणी को लेकर अब बरेली के शिरडी साईं सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित सुशील पाठक ने मोर्चा खाेल दिया है। उनका कहना है कि मौलाना ने पीएम के खिलाफ टिप्पणी कर मौलाना ने लोगों को आहत किया है।

IMC प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमान जनक टिप्पणी को लेकर अब बरेली के शिरडी साईं सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित सुशील पाठक ने खोला मोर्चा।
IMC प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमान जनक टिप्पणी को लेकर अब बरेली के शिरडी साईं सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष पंडित सुशील पाठक ने खोला मोर्चा।

इतना ही नहीं मौलाना ने हिंदुओं को ट्रेन जलाने वाला बताने के साथ ही कहा था कि मुस्लिमों की बातें इस लिए नहीं सुनी जाती कि वह ट्रेन नहीं जलाते। जिससे यह साफ है कि मौलाना तौकीर रजा खान मुस्लिमों को ट्रेन जलाने के लिए भड़का रहे हैं। इतना ही नहीं मौलाना देश के संविधान पर अवश्वास जता रहे हैं। जिससे लोगों की भावनाएं आहत हुई है। पंडित सुशील पाठक का कहना है कि उक्त बयानबाजी देश विरोधी गतिविधि में आती है। इसलिए मौलाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए नहीं तो अब वह आमरण अनशन पर बैठेंगे।

पंडित सुशील पाठक का कहना है कि उक्त बयानबाजी देश विरोधी गतिविधि में आती है। इसलिए मौलाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए नहीं तो अब वह आमरण अनशन पर बैठेंगे।
पंडित सुशील पाठक का कहना है कि उक्त बयानबाजी देश विरोधी गतिविधि में आती है। इसलिए मौलाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए नहीं तो अब वह आमरण अनशन पर बैठेंगे।

IMC के प्रदर्शन में भीड़ जुटाने का हो चुका मुकदमा

19 जून को नुपुर शर्मा को लेकर बरेली के इस्लामिया ग्राउंड में IMC प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान की तरफ से विरोध प्रदर्शन किया गया था। जिसमें उनकी पार्टी की तरफ से जिला अध्यक्ष फरहत खां और महानगर अध्यक्ष मखदूम बेग ने विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम की अनुमति प्रशासन से ली थी। इस दौरान कार्यक्रम में सिर्फ 1500 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई थी, लेकिन आरोप है कि कार्यक्रम में करीब 1 लाख लोगों ने शिरकत की थी।

परमीशन के उल्लंघन के बाद भी प्रशासन उस दौरान चुप रहा लेकिन जब मामला दूसरे दिन लखनऊ तक पहुंचा तो शासन की नाराजगी जताने के बाद बरेली प्रशासन ने आननफानन में कोतवाली में कार्यक्रम के आयोजक IMC के जिलाध्यक्ष फरहत खां और महानगर अध्यक्ष मखदूम बेग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। हालांकि उस दौरान पुलिस ने मौलाना के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया था।

27 जून को बैठेंगे अंशन पर

वहीं अब मौलाना तौकीर रजा द्वारा प्रदर्शन के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और हिंदू धर्म के खिलाफ मन में मलिनता कर मंच से आपत्तिजनक भाषण देने का आरोप लगाते हुए पंडित सुशील पाठक ने मौलाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अपील की है।

उन्होंने बताया कि तीन दिन पहले उन्होंने एडीजी राजकुमार से मिलकर मामले की शिकायत करते हुए मौलाना पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी। बावजूद इसके मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। पंडित सुशील पाठक ने चेतावनी दी है कि अगर मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो वह अब अनशन पर बैठेंगे।

खबरें और भी हैं...