पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्कूल बसों के अनफिट मिलने पर होगी कड़ी कार्रवाई:डीएम ने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को को सभी स्कूल-कॉलेज बसों के निरीक्षण के दिए निर्देश

बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीएम ने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को को सभी स्कूल-कॉलेज बसों के निरीक्षण के दिए निर्देश। - Money Bhaskar
डीएम ने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को को सभी स्कूल-कॉलेज बसों के निरीक्षण के दिए निर्देश।

डीएम शिवाकान्त द्विवेदी ने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिए कि जनपद के समस्त स्कूलों-काॅलेजों में संचालित बसों का अभियान चलाकर परीक्षण किया जाए। बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि जो भी बस अनफिट मिले उनका संचालन किसी भी सूरत में न हो पाए।

इस दौरान साफ कहा कि बच्चों को लाने ले जाने वाली बसों एवं अन्य वाहनों को मानक अनुसार न पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

स्कूलों में संचालि वाहनों की फिटनेस को लेकर बैठक

गुरुवार को डीएम कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के स्कूलों में संचालित बसों के फिटनेस के सम्बन्ध में बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक राम मोहन सिंह, अपर जिलाधिकारी नगर डॉ. आरडी पाण्डेय, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी दिनेश कुमार, सम्भागीय परिवहन अधिकारी जेपी गुप्ता व संजीव जयसवाल,, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विनय कुमार सहित जनपद के समस्त स्कूलों के प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य सहित अन्य संबंधित अधिकारी बैठक के दौरान मौजूद रहे।

इस दौरान डीएम ने पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए कि स्कूलों में संचालित बस चालकों का भी अभियान चलाकर परीक्षण किया जाए कि वह वैध ड्राइविंग लाइसेंस पर कार्य कर रहे हैं या नहीं उनके दोषी मिलने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि जिस स्कूल की बस मानक अनुसार फिट नहीं पाई गई उस स्कूल के प्रबंधन के विरूद्ध कड़ी विधिक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य को निर्देश दिए कि वह सुनिश्चित करें कि स्कूली बसों में चालक किसी प्रकार का नशीले पदार्थ का सेवन न करें।

उन्होंने निर्देश दिए कि बस चालकों का चरित्र प्रमाण पत्र सत्यापित हो और नित्य परीक्षण कराते रहे। उन्होंने बसों में सभी दस्तावेज जांच होने के पश्चात ही स्कूल बस को संचालित किए जाने के भी निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि बरेली जनपद में 784 बसें संचालित हैं इन सभी बसों का तत्काल परीक्षण किया जाए। उन्होंने स्कूलों के प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य को निर्देश दिए कि स्कूलों में संचालित बस मानकानुसार फिट होना चाहिए।

खबरें और भी हैं...