पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापता बच्चे का रामगंगा नदी में मिला शव:एक दिन पहले परिजनों के साथ रामगंगा स्नान करने के दौरान हो गया था लापता

बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार सुबह परिजनों के साथ रामगंगा स्नान करने के दौरान हो गया था लापता, मंगलवार को मिली लाश। - Money Bhaskar
सोमवार सुबह परिजनों के साथ रामगंगा स्नान करने के दौरान हो गया था लापता, मंगलवार को मिली लाश।

सोमवार सुबह बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर परिवार के साथ कैंट थाना क्षेत्र के चौबारी स्थित रामगंगा नदी में स्नान करने गया 12 वर्षीय बच्चा लापता हो गया। देर रात तक परिजनों को उसके बारे में पता नहीं चला लेकिन मंगलवार सुबह गोताखोर और पुलिस को उसकी रामगंगा में उतराती लाश मिली।

शव मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है। शव मिलते ही रामगंगा घाट पर परिचितों और रिश्तेदारों की भीड़ भी शव देख गमगीन हो गई।

नहाने के बाद घाट से हुआ था लापता

फरीदपुर के सजनपुर गांव निवासी योगेश पांडेय एडवोकेट हैं। सोमवार को गुरु पूर्णिमा के अवसर पर योगेश अपने 12 वर्षीय बेटे अभिनव उर्फ देव और अन्य परिजनों के साथ कैंट थाना क्षेत्र के चौबारी स्थित रामंगगा में नदी में स्नान करने गए थे। सभी परिजन नदी में नहा रहे थे, इस दौरान योगेश का बेटा अभिनव परिवार के अन्य बच्चों के साथ नहा रहा था। कुछ देर बाद योगेश अपने बेटे को बाहर निकाला और घाट के किनारे खड़ा कर नहाते हुए उसकी निगरानी भी कर रहे थे।

अचानक योगेश के बेटे के सामने एक युवक आ गया। जब योगेश नहा के निकले तो बेटा गायब था। साथ ही उसके सामने खड़ा हुआ युवक भी गायब था। योगेश ने बच्चे को आसपास और नदी में खोजा लेकिन वह नहीं मिला तो युवक को गायब देख उसे लगा कि हो सकता है युवक उसे लेकर गया हो। उसने युवक की काफी खोजबीन की लेकिन उसका पता नहीं चल सका।

नदी में उतराता मिला शव

सूचना पर पुलिस पहुंची और उसकी तलाश के बाद नदी में भी गोताखोर उतारे लेकिन कुछ पता नहीं चला। रात होने के कारण गोताखोर बाहर निकल आए। उसके बाद पीड़ित परिवार ने सुभाषनगर थाने में अभिनव की गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस की दो टीम अभिनव की तलाश कर रही थी। जबकि एक टीम नदी में गोतखोर उतार कर तलाश कर रही थी।

कुछ घंटे मशक्कत के बाद अभिनव का शव गोताखोरों ने नदी से बाहर निकाला तो परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने जैसे ही अभिनव का शव देखा घाट में चीख-पुकार मच गई। वहीं अभिनव की तलाश के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीण भी घाट पर थे। उसका शव देख सभी के आंसू निकल आए। रिश्तेदारों ने बताया कि अभिनव एकलौता बेटा था। फिलहाल अभिनव का शव मिलने से पूरे गांव व्याकुल हो उठा।