पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बकरी का पैर तोड़ा, विरोध पर छेड़खानी:खेत में बकरी जाने से नाराज थे दबंग, घर में घुसकर किया हमला

बरेली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेत में बकरी जाने से नाराज थे दबंग, घर में घुसकर किया हमला, पीड़िता ने एसएसपी से की शिकायत। - Money Bhaskar
खेत में बकरी जाने से नाराज थे दबंग, घर में घुसकर किया हमला, पीड़िता ने एसएसपी से की शिकायत।

बरेली में बहेड़ी थाना क्षेत्र के एक गांव में खेत में बकरी जाने से नाराज दबंगों ने बकरी का पैर तोड़ दिया। बकरी मालिक ने जानवर होने का हवाला देते हुए मना किया तो आरोपितों ने उसे पीट दिया। पीड़ित जब जान बचाकर घर भागा तो आरोपित लाठी-डंडे लेकर घर में घुस गए और पीड़िता को जमकर पीटा। चीख-पुकार सुनकर जब उसकी नाबलिग बेटियों ने बचाने की कोशिश की तो आरोपितों ने उन्हें पीटा और छेड़खानी की।

शोर सुनकर आसपास के लोग बचाने आए तो आरोपित पुलिस के पास जाने पर जान से मारने की धमकी दे डाली। पीड़ित परिवार ने पुलिस से शिकायत की तो पुलिस ने सिर्फ मेडिकल कराया और कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की। परेशान पीड़ित ने SSP रोहित सिंह सजवाण से शिकायत की तो उन्होंने बहेड़ी पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

नाबालिग बहनों के कपड़े फाड़े की अश्लीलता

बहेड़ी निवासी महिला ने बताया कि वह अपने पति के साथ मजदूरी करती है। 16 मई को उसकी बकरी रस्सी तोड़कर गांव के ही जुबैर के खेत में चली गई। आरोप है कि जुबैर वहां पहुंचा और बकरी को लाठियों से पीटते हुए उसका पैर तोड़ दिया। पीड़िता ने किसी तरह बकरी को बचाया और आरोपित की दबंगई का विरोध करते हुए कहा कि बकरी जानवर ही तो है उसे क्या पता किसका खेत है तो आरोपित पीड़िता को गाली देने लगा।

पीड़िता ने बताया कि उसने जब पति के लौटने पर उसके साथ थाने जाकर शिकायत करने की बात कही तो आरोपित जुबैर अपने परिजनों के साथ पीड़िता के घर लाठी-डंडे लेकर घुस गया और पीड़िता को पीटना शुरू कर दिया। शोर सुनकर जब उसकी नाबालिग बेटियां बचाने आई तो आरोपितों ने बच्चियों को भी पीटा और उनके कपड़े फाड़ दिए।

विरोध पर आरोपितों ने उनके साथ अश्लीलता कर डाली। चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण पहुंचे तो दबंग मुंह खोलने या पुलिस से शिकायत पर जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए। आरोप है कि पीड़ित परिवार ने बहेड़ी पुलिस से शिकायत की लेकिन सुनवाई नहीं हुई। बुधवार को पीड़ित परिवार SSP रोहित सिंह सजवाण से मुलाकात कर शिकायत की तो उन्होंने जांच कर कार्रवाई के आदेश दे दिए।