पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौलाना पर मुकदमें के लिए अनशन खत्म:PM मोदी पर टिप्पणी को लेकर शुरू किया अनशन,  SSP के आश्वासन के बाद एक घंटे में हुआ समाप्त

बरेली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आमरण अनशन का ऐलान करने वाले पंडित सुशील पाठक ने आज सुबह 10 बजे मंदिर परिसर में आमरण अंशन शुरू किया। - Money Bhaskar
आमरण अनशन का ऐलान करने वाले पंडित सुशील पाठक ने आज सुबह 10 बजे मंदिर परिसर में आमरण अंशन शुरू किया।

बरेली में मौलाना तौकीर रजा पर के खिलाफ मुकदमा दर्ज न करने पर सुशील पाठक ने 10 बजे सुबह आमरण अनशन शुरू किया। इसके बाद प्रशासन ने कुछ ही घंटे में पाठक को आश्वासन देकर अनशन अनशन समाप्त कराया। बता दें कि 19 जून मौलाना तौकीर रजा खान ने पीएम मोदी के पर टिप्पणी की थी। इसके बाद पंडित सुशील पाठक ने कहा कि प्रशासन के आश्वासन के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई तो दोबारा आमरण अनशन पर बैठेंगे।

पंडित सुशील पाठक के अनशन की जानकारी पर पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट और एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने ज्ञापन लेकर अनशन खत्म कराया।
पंडित सुशील पाठक के अनशन की जानकारी पर पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट और एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने ज्ञापन लेकर अनशन खत्म कराया।

मौलाना ने कहा था नरेंद्र मोदी कलमा पढ़ो
बता दें कि बीते 19 जून को मौलाना तौकीर रजा खान द्वारा नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर धरना प्रदर्शन किया था। इस दौरान तौकीर रजा खान ने कहा था "वो भाजपाई कहते हैं कि घर वापसी कर लो। मैं दावत देता हूं नरेंद्र मोदी-अमित शाह को कि इस्लाम को समझो। ईमानदारी से मोक्ष चाहते हो तो इस्लाम सबसे अच्छा है" उन्होंने कहा कि मैं ज्ञापन लेकर आया हूं, लेकिन इस बेईमान हुकूमत को ज्ञापन नहीं देंगे। हमारे ज्ञापन का नोटिस नहीं लिया जाएगा। हम ट्रेनें नही जला रहे इस लिए हमारी बातें नहीं सुनी जा रही। उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी कलमा पढ़ो।"

इसी बात को लेकर पंडित सुशील पाठक ने मौलाना पर मुकदमे की मांग की थी और मुकदमा नहीं होने पर आज आमरण अनशन की। हालांकि उस दिन हुए कार्यक्रम में भारी भीड़ को देखते हुए शासन ने नाराजगी जताई तो बरेली प्रशासन ने आनन-फानन में मौलाना के कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था, लेकिन मौलाना तौकीर रजा खान के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई थी। वही पंडित सुशील पाठक का आमरण अनशन तोड़वाने के बाद शासन-प्रशासन की तरफ से उन्हें मौलाना के खिलाफ मुकदमें का आश्वासन दिया है।

खबरें और भी हैं...