पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भमोरा में युवक ने फांसी से लगाकर दी जान:पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजा, इफको में संविदा पर करता था नौकरी

मीरगंज, बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भमोरा थाना क्षेत्र के एक गांव में युवक का शव फंदे से लटकता मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

बेगूसराय निवासी मुरारी कुमार (30) ने 20 दिन पहले भमोरा थाना क्षेत्र के सेंधा बाजार में एक मकान किराए पर लिया था। उसके साथ पत्नी अनीता और बेटी रिमझिम भी रह रही थी। युवक इफको में संविदा पर नौकरी कर परिवार का पालन पोषण कर रहा था। अनीता ने बताया कि युवक तीन दिन से ड्यूटी पर नहीं जा रहा था। उसने नौकरी पर जाने का दबाव बनाया तो युवक ने मंगलवार दोपहर 12 बजे उसे बेटी समेत घर से निकालकर दरवाजा बंद कर दिया। कुछ देर बाद उसने दरवाजा खोलने को आवाज लगाई, लेकिन युवक ने कोई जवाब नहीं दिया। काफी देर तक दरवाजा नहीं खुलने पर रिमझिम पड़ोसी के घर से होते हुए छत पर पहुंची। उसने जाल से झांक कर देखा तो युवक का शव बरामदे में लगे पंखे से लटक रहा था। मां-बेटी के रोने की आवाज सुनकर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। ग्रामीणों ने दरवाजा खोलकर शव को फंदे से नीचे उतारा।

युवक ने अनीता से नहीं की शादी

महिला ने बताया कि उसका विवाह बिहार के सिमरा निवासी शंकर तिवारी के साथ हुआ था। शंकर तिवारी के चार बच्चे हैं। रिमझिम भी उसकी बेटी है। बीमार रहने के कारण वह परिवार का पालन-पोषण नहीं कर पा रहा था। खाने के लाले पड़ गए थे। इसी बीच उसकी मुलाकात मुरारी से हुई, तब से वह बिना शादी के ही युवक के साथ रह रही है।

खबरें और भी हैं...