पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ट्रेन में चोरी हुए जूते का पता चला:जीआरपी को मिला जूता चोर- बोला-जल्दबाजी में पहन गया था नया जूता, बरेली आकर वापस करेगा

फरीदपुर, बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

5 मई को लखनऊ के गोमतीनगर निवासी हरपाल सिंह पुत्र नंदराम सिंह 12430 नई दिल्ली-लखनऊ एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस में सफर कर रहे थे। उन्हें गाजियाबाद से लखनऊ जाना था। वह ट्रेन के बी-4 कोच की 49 नंबर बर्थ पर सवार हुए। इस दौरान सीट के नीचे उतारा उनका नया जूता चोरी हो गया था।

चोरी करने वाला व्यक्ति अपने टूटे जूते छोड़कर चला गया। हरपाल ने कोच की सामने वाली 50 नंबर सीट पर सफर कर रहे एक व्यक्ति पर जूता चुराने का आरोप लगाया । पूरे मामले की शिकायत उन्होंने लखनऊ पहुंचकर की लेकिन, वहां रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई। मामला बरेली जंक्शन जीआरपी को ट्रांसफर किया गया।

इसे भी पढ़ें- लखनऊ के यात्री ने दर्ज कराई रिपोर्ट, आरोपी की तलाश शुरू

सीट नम्बर के आधार पर ढूंढा गया आरोपी

मामले में रिपोर्ट दर्ज होने के बाद जीआरपी ने आईआरसीटीसी से जूता चोरी करने वाले की जानकारी मांगी थी। पता चला कि हरपाल के पास वाली सीट पर कोलकाता का रहने वाला प्रशांत नाम का युवक सफर कर रहा था। आरोपी के मोबाइल नम्बर पर जीआरपी ने फोन किया तो उसे यकीन ही नहीं हुआ कि उस पर जूता चोरी का मुकदमा दर्ज हुआ है।

जल्दबाजी में पहनकर गया था जूता

फिलहाल उसने कहा कि अचानक ट्रेन चल दी थी। जल्दबाजी में वह अपना पुराना जूता छोड़ आया। उसके सामने नया जूता पड़ा था, वह पहन लिया। जल्द ही बरेली आकर जूता सौंपने की बात कही है।

खबरें और भी हैं...