पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बाराबंकी की महिला की ससुराल में मौत:आरोप- ससुरालियों ने शव भी नहीं देखने दिया और कर दिया अंतिम संस्कार, पुलिस ने बरती लापरवाही

बाराबंकी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका नीतू की शादी 2012 में हुई थी। - Money Bhaskar
मृतका नीतू की शादी 2012 में हुई थी।

बाराबंकी जिले की निवासी महिला की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में उसकी ससुराल में हो गई। मायके पक्ष ने दहेज हत्या का आरोप लगाया है। मृतका की ससुराल लखनऊ के बीबीडी थाना क्षेत्र जुग्गौर में है। मायके पक्ष को जानकारी दिए बिना ही मृतका का अंतिम संस्कार कर दिया गया। मायके वालों ने पुलिस पर भी लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। हालांकि मृतका का अंतिम संस्कार हो जाने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक, बाराबंकी जिले की नगर कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले सुनील कुमार ने बताया कि उसने बहन नीतू यादव की शादी 12 साल पहले लखनऊ के बीबीडी थाना क्षेत्र के जुग्गौर में की थी। 18 तारीख की रात नीतू यादव की ससुराल में संदिग्ध मौत हो गई। नीतू की मौत के बाद ससुराल वालों ने इसकी सूचना मायके वालों को दी। आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल के लोग लगातार उसे परेशान कर रहे थे।

मृतका के भाई सुनील का कहना है कि अंतिम संस्कार काे लेकर भी संशय बना हुआ है।
मृतका के भाई सुनील का कहना है कि अंतिम संस्कार काे लेकर भी संशय बना हुआ है।

आरोप है कि दहेज की मांग पूरी ना होने के चलते ससुराल वालों ने नीतू की हत्या कर दी। मृतका के भाई का कहना है कि वह बहन की मौत की खबर सुनकर ससुराल पहुंचा तो वहां बहन को देखने तक नहीं दिया गया। पुलिस भी ससुरालवालों का ही साथ देती रही, हालांकि काफी प्रयास के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं होने से परिवार परेशान है।

भाई सुनील कुमार का कहना है कि हमारी बहन का अंतिम संस्कार हुआ है या किसी और का यह भी नहीं जानकारी है। पुलिस एफआईआर दर्ज करने में भी काफी हीला हवाली करती रही। उससे कई घंटे थाने में बिठाए रखा गया। हालांकि काफी प्रयास के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। परिवार ने पुलिस पर ससुराल वालों से सांठगांठ का आरोप लगाया है।

खबरें और भी हैं...