पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48432-0.52 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62988-1.1 %

बाराबंकी पहुंची प्रसपा की सामाजिक परिवर्तन यात्रा:शिवपाल बोले- सपा से हमारा गठबंधन सीटों के आधार पर ही होगा, विलय को भी हैं तैयार

बाराबंकी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शिवपाल यादव सामाजिक परिवर्तन यात्रा का समापन 30 नवंबर को अयोध्या में रामलला के दर्शन कर करेंगे।  - Money Bhaskar
शिवपाल यादव सामाजिक परिवर्तन यात्रा का समापन 30 नवंबर को अयोध्या में रामलला के दर्शन कर करेंगे। 

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सामाजिक परिवर्तन यात्रा शिवपाल यादव के नेतृत्व में आज बाराबंकी पहुंची। शिवपाल के साथ उनके बेटे और राष्ट्रीय महासचिव आदित्य यादव भी थे। यात्रा के दौरान शिवपाल ने कहा कि उनकी सामाजिक परिवर्तन यात्रा प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के लिए निकाली जा रही है। उन्होंने कहा कि सपा से हमारा गठबंधन सीटों के आधार पर ही होगा।

दो साल बाद सपा ने गठबंधन के दिए संकेत

शिवपाल ने कहा कि पिछले दो साल से वह सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से गठबंधन की बात करते आ रहे हैं। अब जाकर उन्होंने गठबंधन के कुछ संकेत दिए हैं। लेकिन हमारा गठबंधन सीटों के आधार पर ही होगा। हमारे लोगों का सम्मान होने पर सपा में विलय और अखिलेश को सीएम बनाने पर कोई फैसला होगा।

उन्होंने कहा कि अगर समाजवादी पार्टी से गठबंधन नहीं होता है तो जल्द ही किसी राष्ट्रीय स्तर की पार्टी से वह गठबंधन करके चुनाव मैदान में आएंगे। बाराबंकी में शिवपाल की सामाजिक परिवर्तन यात्रा सफेदाबाद से होते हुए शहर के अंदर आई। इस दौरान प्रसपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने शिवपाल का जोरदार स्वागत किया। सामाजिक परिवर्तन यात्रा के अवसर पर शिवपाल ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी नया इतिहास बनाने को लेकर काम कर रही है।

शिवपाल ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी नया इतिहास बनाने को लेकर काम कर रही है।
शिवपाल ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी नया इतिहास बनाने को लेकर काम कर रही है।

सपा में विलय को भी हैं तैयार

प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव ने साफ किया कि गठबंधन से भी आगे बढ़कर सपा में पार्टी का विलय करने से भी उन्हें परहेज नहीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन बहुत जरूरी है। इसके लिए सपा से गठबंधन करना पड़े या फिर चाहे विलय, उन्हें मंजूर है। यात्रा के दौरान शिवपाल ने महंगाई के चरम पर और कानून व्यवस्था ध्वस्त होने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि त्याग और संघर्ष के बल पर हमने सरकारें बनाई और बिगाड़ी हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव में किसी भी कीमत पर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी की सरकार को हटाना है।

आगे बोले कि आज किसान परेशान हैं। युवा रोजगार की तलाश में भटक रहे हैं। सरकार से जुड़े कुछ उद्योग घराने ही पनप रहे। कोरोना में जहां बेड व आक्सीजन नहीं थे, वहीं अब डेंगू से भी सरकार लड़ नहीं पा रही। उन्होंने कहा कि इस यात्रा का समापन 30 नवंबर को अयोध्या में रामलला के दर्शन कर करेंगे।

खबरें और भी हैं...