पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

साहब! हमको मिल रही पेंशन, हमारा कार्ड जमा कर लो:बाराबंकी में रिकवरी के डर से राशन कार्ड सरेंडर करने पहुंचा दिव्यांग, डीएसओ बोले-तुम पात्र हो, नहीं कटेगा तुम्हारा कार्ड

बाराबंकीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पूरे प्रदेश में रिकवरी के डर से राशन कार्ड जमा करने वालों में होड़ मची हुई है। इसी कड़ी में बाराबंकी में एक दिव्यांग अपना राशन कार्ड सरेंडर करवाने जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय पहुंचा। डीएसओ ​​​​​को अपना राशन कार्ड सौंपते हुए कहा कि साहब मुझे दिव्यांग पेंशन मिलती है। इसलिए हमारा कार्ड जमा कर लो। नहीं तो हमसे वसूली की जाएगी।

दरअसल, ​​​​​​​बाराबंकी में अब तक हजारों लोग राशन कार्ड सरेंडर कर चुके हैं। जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय में राशन कार्ड सरेंडर करने वालों का हर दिन तांता लगा रहता है। इसी बीच आज भीड़ में एक दिव्यांग असीम अब्बास भी अपनी ट्राइसाइकिल से पहुंच गया। फटे-पुराने कपड़े पहने दिव्यांग ने जिला पूर्ति अधिकारी डॉ. राकेश कुमार तिवारी को कार्ड सौंपते हुए जमा करने को कहा। उसने बताया कि किसी ने उसे कहा है कि वह दिव्यांग पेंशन पाता है। इसलिए वह अपना राशन कार्ड जमा कर दे। नहीं तो उससे वसूली की जाएगी। इसी डर से वह चला आया। दिव्यांग बाराबंकी के कटरा मोहल्ले का रहने वाला है।

वसूली के डर से ट्राइसाइकिल से राशन कार्ड सरेंडर करवाने जिला पूर्ति कार्यालय पहुंचा दिव्यांग।
वसूली के डर से ट्राइसाइकिल से राशन कार्ड सरेंडर करवाने जिला पूर्ति कार्यालय पहुंचा दिव्यांग।

डीएसओ बोले, तुम पात्र हो, जाओ तुम्हार कार्ड नहीं कटेगा
वहीं डीएसओ ने दिव्यांग की पुरानी ट्राइसाइकिल और उसकी दशा देखकर कहा कि तुम पात्र हो, जाओ तुम्हारा कार्ड नहीं कटेगा। उनकी यह बात सुनकर दिव्यांग की आंखों में खुशी के आंसू झलक पड़े। डीएसओ ने साफ किया कि कार्ड सिर्फ वही लोग सरेंडर करें, जो अपात्र हैं। आयकरदाता, चार पहिया वाहन, ट्रैक्टर, हार्वेस्टर, एसी, पांच किलोवाट या उससे अधिक क्षमता के जनरेटर, पांच एकड़ से ज्यादा सिंचित जमीन, एक से ज्यादा शस्त्र लाइसेंस धारक, वार्षिक आय दो लाख से ज्यादा वाले लोग अपात्र हैं, यह अपना कार्ड सरेंडर कर दें। जिला पूर्ति अधिकारी ने दिव्यांग को समझाया कि वह किसी के कहने में न आए, वह पात्र है। उसे राशन कार्ड जमा करने की जरूरत नहीं है।

​​​​​​​

खबरें और भी हैं...