पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बाराबंकी...बीजेपी किसान मोर्चा ने शुरू की ट्रैक्टर रैली:किसान आंदोलन पर निशाना साधने की कोशिश, 16 से 30 नवंबर तक चलेगी रैली

बाराबंकी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीजेपी किसान मोर्चा ने निकाली ट्रैक्टर रैली। - Money Bhaskar
बीजेपी किसान मोर्चा ने निकाली ट्रैक्टर रैली।

कृषि कानूनों के खिलाफ देश में लंबे समय से चल रहे किसान आंदोलन को भले ही केंद्र सरकार अनदेखा कर रही हो, लेकिन यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए बीजेपी ने किसानों को साधने की कवायद तेज कर दी है। बीजेपी किसान आंदोलन की वजह से जरा सा भी जोखिम नहीं लेना चाहती है। किसान आंदोलन का चेहरा बन चुके राकेश टिकैत के काउंटर में बीजेपी किसान मोर्चा ने मंगलवार से यूपी में ट्रैक्टर रैली के जरिए 2022 के लिए चुनावी माहौल बनाने की शुरूआत कर दी है।

यूपी बीजेपी किसान मोर्चा के अध्यक्ष कामेश्वर सिंह की अगुवाई में प्रदेश भर में ट्रैक्टर रैली निकाली जा रही है। इसका आगाज पूर्वांचल के मऊ में कामेश्वर सिंह ने किया। 16 नवंबर से 30 नवंबर तक प्रदेश व्यापी ट्रैक्टर रैली का आयोजन बीजेपी किसान मोर्चा के द्वारा किया जाएगा।

सरकार ने किसानों के लिए किया काम

ट्रैक्टर रैली को लेकर जानकारी देते हुए किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री रामबाबू द्विवेदी ने कहा कि रैली के माध्यम से हम मोदी और योगी सरकार द्वारा किसानों के हित में चलाई गई जन कल्याणकारी योजनाओं को विस्तार पूर्वक बताने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों के हित में केंद्र की मोदी और यूपी की योगी सरकार ने जितना किया है, उतना काम आजादी के बाद किसी भी सरकार ने नहीं किया।

केंद्र और यूपी की भाजपा सरकार किसानों के लिए हर संभव मदद का प्रयास कर रही है। किसानों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। अब ट्रैक्टर रैली के जरिए किसानों को समझाने और 2022 के चुनाव में बीजेपी के पक्ष में करने की योजना है।

लोग लगा रहे झूठे आरोप

किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री रामबाबू द्विवेदी ने आज समाजवादी पार्टी और तमाम विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने प्रदेश को सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे की सौगात दी है। हमारी सरका ने सड़कों को गांवों से जोड़ा है। उन्होंने सपा पर निशाना साधा कि ये लोग केवल झूठे आरोप लगाते हैं। उनकी बातों में कोई सच्चाई नहीं होती।

सरकार ने घटाए डीजल-पेट्रोल के दाम

डीजल-पेट्रोल की कीमतों पर राम बाबू द्विवेदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने एक नियम बनाया था कि चाहे कोई भी राज्य सरकार हो, वह डीजल-पेट्रोल के मूल्य का निर्धारण नहीं करेगी। प्रदेश सरकारें केवल वैट समेत दूसरे टेक्स में बदलाव कर सकती है। पीएम मोदी ने बड़ा दिल दिखाते हुए डीजल-पेट्रोल के दाम तम किये। इसी क्रम में प्रदेश की योगी सरकार ने भी बड़ा दिल दिखाया और डीजल-पेट्रोल के टैक्स में कमी की है।

खबरें और भी हैं...