पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डिप्रेशन में लेखाकार ने दी जान:हैदरगढ़ में घरेलू कलह के चलते पेड़ पर फंदा लगाकर झूला, जांच में जुटी पुलिस

हैदरगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बाराबंकी जनपद के हैदरगढ़ में लेखाकार ने लगाकर जान दे दी है। बताया जा रहा है कि वह पारिवारिक कलह के चलते काफी समय से परेशान चल रहा था, जिसकी वजह से कर्मचारी ने खौफनाक कदम उठाया है। मृतक लेखाकार ऋषि कांत मिश्रा (52) लखनऊ के फैजुल्लागंज के रहने वाला है।

वितरण केंद्र पर फांसी लगाकर दी जान
ऋषि कांत मिश्रा पिछले 3 दशकों से विपणन केंद्र मंगलपुर पर चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी/लेखाकार के रुप में तैनात था। आज वितरण केंद्र की तरफ से गुज़र रहे किसी ग्रामीण की नज़र जब आम के पेड़ पर रस्सी के सहारे लटकते शव पर पड़ी तो वो दंग रह गया। जिसकी सूचना लगते ही बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके आनन-फानन में पुलिस विपणन केंद्र पर पहुंची। पुलिस ने ग्रामीणों की सहायता से शव को नीचे उतरा। पुलिस ने इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दी, फिर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया।

पत्नी से काफी समय से चल रहा झगड़ा
मृतक कर्मचारी की अपनी पत्नी से अनबन चल रही थी, जिस वजह से मृतक घर जाने के बजाय ज्यादातर वितरण केंद्र पर ही रहता था। आज वितरण केंद्र पर वह अकेला था, जिसके चलते ही मौके पाकर उसने फांसी लगाकर जान दे दी। हैदरगढ़ थाना प्रभारी बृजेश कुमार का कहना है कि मृत्यु की वजह अभी साफ नहीं हो सकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण का पता चलेगा।

खबरें और भी हैं...