पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फतेहपुर में स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों से अवैध वसूली:एएनएम ने डिलीवरी के लिए ले लिए 5 हजार रुपये, बिना टांका लगाए कर दिया डिस्चार्ज

फतेहपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ऑपरेशन के नाम पर अवैध वसूली हो रही है। शिकायतों के बाद भी सीएचसी की व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं हो रही हैं। पूर्व में भी मरीजों व तीमारदारों के साथ बदसलूकी के मामले सामने आ चुके हैं, इस बार एएनएम ने इलाज के नाम पर 5 हजार रुपये वसूल लिए। पीड़ित ने कार्रवाई की गुहार लगाई है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सूरतगंज अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छेदा में विकास खंड के ग्राम रंजीतपुर निवासी विजय पुत्र गया प्रसाद की बहू की तबीयत खराब होने पर उसे डिलीवरी के लिए ले जाया गया। यहां एएनम ने छोटा ऑपरेशन करने के नाम पर 5000 रुपये वसूल लिए। पीड़ित ने किसी तरह इंतजाम करके रुपये दे दिए। डॉक्टर ने अपरेशन भी किया। लेकिन बिना टांका लगाए ही उसकी बहू को डिस्चार्ज कर दिया गया।

परिवार बोला-इलाज में हुई लापरवाही

विजय ने बताया कि 14 अप्रैल को हमारी बहू की तबीयत खराब हुई और डिलीवरी करवाने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छेदा पर गए। यहां रुपये भी ले लिए गए और इलाज में भी लापरवाही बरती गई। 2 दिन बाद हालात खराब होने पर हमने जेवर गिरवी रखकर हमने इलाज करवाया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आने वाले मरीजों से पैसा वसूला जाता है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को प्रार्थना पत्र देखकर कार्रवाई कराने की मांग की थी लेकिन एक माह बीत जाने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र।
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र।

पहले भी एएनएम पर लग चुके हैं आरोप

एएनएम बेलहरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और बिशुनपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात थी तो वहां के ग्रामीणों ने भी इसी तरह के आरोप लगाए थे। कार्रवाई के नाम पर ट्रांसफर कर दिया गया था लेकिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छेदा में भी लगातार इन पर आरोप लगने शुरू हो गए हैं।

सीएचसी अधीक्षक बोले-होगी कार्रवाई

सीएचसी अधीक्षक सूरतगंज ने बताया कि 3 दिन पूर्व जानकारी प्राप्त हुई है, हमने जांच कर कार्रवाई के आदेश दे दिए हैं हमारे स्तर से वेतन रोकने का प्रावधान है, शिकायतें तो बहुत मिली है, कठोर कार्रवाई की जाएगी। वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी से संपर्क किया गया तो उन्होंने जवाब में कहा कि अभी शिकायत प्राप्त नहीं हुई शिकायत प्राप्त होती है तो जांच कराई जाएगी और जांच में दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...