पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारत का संविधान जिन्हें पसंद नहीं, भारत छोड़कर जाएं:बांदा में बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद का प्रदर्शन, जहरीले भाषण देने वालों पर कार्रवाई की मांग

बांदा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में बढ़ रही इस्लामिक जेहादी कट्टरता और हिंसा के खिलाफ बांदा में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। चेतावनी देते हुए कहा है कि यह 1947 का भारत नहीं, 2022 का भारत है।

भारत का संविधान जिन्हें पसंद नहीं, भारत छोड़कर जाएं। कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा है। साथ ही देशभर में जहरीले भाषण देने वालों को चिन्हित कर कार्रवाई करने की मांग की है।

इस्लामिक जेहादी कट्टरता बढ़ती जा रही है
नगर मजिस्ट्रेट को दिए गए ज्ञापन में कहा कि पिछले कुछ समय से देशभर में इस्लामिक जेहादी कट्टरता बढ़ती जा रही है। योजनापूर्वक हिन्दुओं पर हमले किये जा रहे है। वर्ष प्रतिपदा एवं भगवान श्रीराम के प्रकटोत्सव श्रीराम नवमी पर देशभर में शोभायात्राओं पर पथराव और हमले किये गये।

जिसके कारण अनेक स्थानों पर कर्फ्यू लगाना पड़ा और देशभर में तनाव की स्थिति बनी। हिन्दू समाज ने धैर्य रखा जिसके कारण कोई बड़ी अनहोनी नहीं हुई। बाद में कुछ स्थानों पर श्री हनुमान जयंती की शोभायात्राओं पर भी पथराव हुआ। हिन्दू समाज अपने ही देश में अपने आराध्य देवों की शोभायात्रा नहीं निकाल पा रहा है।

हिन्दू समाज हमलों से आक्रोशित
हिजाब विवाद के समय भी कर्नाटक में बजसा दल कार्यकर्ता हर्षा की निर्मम हत्या की गयी। उस समय भी अनेक स्थानों पर हिन्दुओं पर हमले हुए थे। अभी हाल मे नुपुर शर्मा व नवीन जिन्दल के बयान को लेकर गत दो शुक्रवारों को जुमे की नमाज के बाद मस्जिदों से हमले किए गए।

हिन्दू घरों, दुकानों, वाहनों को आग लगा दी गयी। शासकीय सम्पत्ति और मंदिरों को भी भारी मात्रा में नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस बलों पर भी हमले हुए। अनेक लोगों को जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं। कानून को इन जेहादियों ने मजाक बना दिया है। जिससे सम्पूर्ण देश का हिन्दू समाज इन हमलों से आहत है और आक्रोशित भी है।

रासुका और जिलाबदर की कार्रवाई की मांग
ज्ञापन में मांग की गई है कि जुमे की नमाज के बाद मस्जिदों से निकली उन्मादी भीड़ और दंगाइयों को पहचान कर उन पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाए। इनको भड़काने वाले मुल्ला मौलवियों अन्य मुस्लिम व नेताओं की पहचानकर उन पर भी रासुका लगाकर जिलाबदर की कार्यवाही की जाए।

देशभर में ऐसे जहरील भाषण देने वालों को चिन्हित कर उन पर कार्यवाही की जाये। प्रदर्शन करने वालों में विश्व हिंदू परिषद के जिला जिलाध्यक्ष चंद्र मोहन वेदी व बजरंग दल के प्रभाकर सिंह चंदेल आदि शामिल रहे।