पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखीमपुर अस्पताल में बच्चे की मौत मामला:अस्पताल में आए हाईवोल्टेज करंट के कारणों की जांच करेगी तीन सदस्यीय टीम

लखीमपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महिला अस्पताल में सिक न्यू बोर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) में हाईवोल्टेज करंट आने से खराब हुए आक्सीजन कंसंट्रेटर व एक बच्चे की मौत के कारणों की जांच शुरू हो गई है। करंट आने के कारणों व आक्सीजन कंसंट्रेटर खराब होने पर तत्काल कार्रवाई की तलाश की जाएगी। हाईवोल्टेज करंट आने के कारणों का पता लगाने के लिए बिजली विभाग ने तीन सदस्यीय कमेटी गठित की है।

बता दें कि जिला महिला अस्पताल में हाईवोल्टेज करंट आने से 24 जून को एसएनसीयू में लगे छह आक्सीजन कंसंट्रेटर जल गए थे। दो एयर कंडीशन और पंखा खराब हो गया था। एसएनसीयू में कंसंट्रेटर खराब होने से वार्मर में ऑक्सीजन की आपूर्ति भी ठप हो गई थी, जिस कारण एक बच्चे की मौत हो गई थी।

मामले में सीएमओ डा. सुशील कुमार ने चिकित्सा अधीक्षक महिला अस्पताल डाॅ. विनीता राय से इसमें क्या कार्रवाई की गई, इसका जवाब मांगा। इसी पत्र की प्रति अधिशासी अभियंता बिजली को भी दी। अधिशासी अभियंता बालकृष्ण ने हाईवोल्टेज बिजली आपूर्ति होने के कारणों को जानने के लिए उप खंड अधिकारी योगेश कुमार सिंह, प्रेमचंद और अवर अभियंता प्रियदर्शी तिवारी की कमेटी गठित की है। जो अस्पताल में बिजली आपूर्ति व्यवस्था की बारीकी से पड़ताल करेगी।

खबरें और भी हैं...