पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

'उमंग' में बच्चों ने किया खूब धमाल:बलिया के टाउन इंटर कॉलेज में आयोजित हुआ कार्यक्रम, नाटक, गायन और गीतों से बांधा समा

बलिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बलिया शहर के टाउन इंटर कॉलेज के सभागार में आयोजित उमंग कार्यक्रम में बच्चों ने खूब धमाल किया। किसी मझे हुए कलाकार की तरह बच्चों की प्रस्तुति ने हर किसी को मंत्रमुग्ध कर दिया। सामाजिक, साहित्यिक और सांस्कृतिक संस्था ‘संकल्प’ की ओर से 25 दिनों से चल रहे अभिनय प्रशिक्षण व व्यक्तित्व विकास कार्यशाला के समापन पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल बच्चों ने सबका दिल जीत लिया।

कार्यक्रम में विशेष रूप से नाटक ‘चिरईया’, 2 कलाकार और भो-भो, खो- खो की प्रस्तुति शानदार रही। इन नाटकों के माध्यम से बच्चों ने बेटी बचाओ, सामाजिक एकता व समरसता और कलाकारों की व्यथा को दर्शाया। बच्चों ने हिंदी साहित्य की उत्कृष्ट कविताओं ‘उतनी दूर मत ब्याहना’ (निर्मला पुतुल), ‘औरतें’ (रमाशंकर यादव विद्रोही), ‘बच्चे काम पर जा रहे हैं’ (राजेश जोशी) और ‘पुष्प की अभिलाषा’ (माखनलाल चतुर्वेदी) की प्रभावशाली प्रस्तुति की।

‘मिल के चलो, मिल के चलो, ये वक्त की आवाज है, मिल के चलो’, ‘वो सुबह कभी तो आएगी’, ‘बेसन की सोंधी रोटी पर खट्टी चटनी जैसी मां’ जैसे समूह गीतों के अलावा पार्थ आर्यन, श्रेयसी पांडेय व आकर्षिका पाठक के एकल गीत को भी लोगों ने खूब सराहा। बच्चों की प्रतिभा को तरासने में रंगकर्मी आशीष त्रिवेदी, संकल्प की सदस्य युवा रंगकर्मी ट्विंकल गुप्ता की अहम भूमिका रही। आनंद चौहान ने अभिनय और कृष्ण कुमार यादव मिट्ठू ने बच्चों को गायन विधा में निपुण किया।

कार्यक्रम में इन बच्चों ने दी प्रस्तुति
ईशान पाठक, आदित्य, ज्योति साहनी, देवेशी, श्रेयसी पांडेय, शुभ पांडे, अभिज्ञान पांडे, ख्याति सिंह, प्रतीक, समृद्धि उपाध्याय, चंदन गुप्ता, अभ्यांश सिंह, दिव्यांश सिंह, दीपक, शांभवी रवि प्रिया, समृद्धि सिंह, अर्नव कुंवर, शशि प्रभा सिंह, प्रत्यूष कुमार, आकर्षिका पाठक, सक्षम गुप्त, पार्थ आर्यन प्रमुख रहे।

श्रेयसी पांडेय व पार्थ आर्यन को विशेष प्रतिभा सम्मान से सम्मानित किया गया। इस मौके पर साहित्यकार डॉ. जनार्दन राय, अशोक, प्रोफेसर यशवंत सिंह, डॉ. भोला प्रसाद आग्नेय, डॉ. गणेश पाठक व डॉ. अखिलेश सिन्हा ने बच्चों को प्रमाण पत्र व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया।