पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी को विधानसभा का मिला पत्र:लखनऊ में दो दिवसीय 'प्रबोधन कार्यक्रम' में नव निर्वाचित विधायकों को देंगे ट्रेनिंग, अखिलेश यादव होंगे नेता प्रतिपक्ष

बांसडीहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बांसडीह के पूर्व विधायक तथा पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की आवाज अब लखनऊ के तिलक हॉल में गूंजेंगी। जब वे दो दिवसीय प्रबोधन कार्यक्रम में नव निर्वाचित विधायकों को प्रशिक्षण देंगे।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष तथा पूर्व प्रदेश अध्यक्ष को करेंगे प्रशिक्षित
पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी आगामी 21 मई को कार्य स्थगन, अविलंबनीय लोक महत्व एवं शून्यकाल के बारे में लखनऊ के तिल हॉल में बात करेंगे। इस दौरान वे नव निर्वाचित विधायकों को प्रशिक्षण देंगे। इसके अलावा पूर्व प्रदेशाध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हृदय नाराणय दीक्षित भी विधायकों को प्रशिक्षित करेंगे। यह जानकारी सपा के जिला प्रवक्ता सुनील पाण्डेय ने दी है। बताया कि विधानसभा सचिवालय का आमंत्रण पत्र पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी को दिया गया है।

बांसडीह से रह चुके हैं विधायक।
बांसडीह से रह चुके हैं विधायक।

पूर्व मुख्यमंत्री तथा नेता प्रतिपक्ष भी करेंगे संबोधित
साल 2022 विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने जीत हासिल कर पूर्ण बहुमत से सरकार गठन किया। वहीं विपक्ष के रूप में समाजवादी पार्टी अहम भूमिका में रही। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव नेता प्रतिपक्ष हैं। इसके पहले बांसडीह से विधायक रहे रामगोविंद चौधरी नेता प्रतिपक्ष थे, जिनकी आवाज सदन में सुनने को मिली थी। विधानसभा 2022 का चुनाव रामगोविंद चौधरी तो हार गए। वहीं वजूद की बात करें तो वह आज भी कायम है। इस कार्यक्रम में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व वर्तमान नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव भी संबोधित करेंगे।

खबरें और भी हैं...