पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राशन कार्ड धारकों में दिख रहा कार्रवाई का खौफ:पयागपुर क्षेत्र के तीन सौ से अधिक लोगों ने सरेंडर किया राशनकार्ड, सत्यापन में अपात्र मिलने पर

पयागपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पयागपुर में अपात्र राशनकार्ड धारकों में कार्रवाई का खौफ साफ दिख रहा है। पयागपुर क्षेत्र के तीन सौ से अधिक राशन कार्ड धारक अब तक कार्ड सरेंडर कर चुके हैं। सरकार ने सत्यापन में अपात्र मिलने पर न सिर्फ कार्रवाई की चेतावनी दी है, बल्कि उनसे राशन की वसूली की भी चेतावनी दी है।

ऐसे में पात्रता की श्रेणी में न आने वाले कार्डधारकों में खलबली मची हुई है। जिले में राशन कार्ड का लक्ष्य समाप्त होने के बाद ने पात्रों का नाम सूची में शामिल नहीं हो पा रहा है। इससे निपटने के लिए सरकार ने पात्रता की शादी निर्धारित कर छटनी शुरू करने का खाका तैयार किया है। सत्यापन के दौरान पात्रता की शर्तें पूरी न करने वाले राशनकार्ड धारकों पर कार्रवाई की तैयारी है।

पयागपुर में तीन सौ से अधिक ने किया सरेंडर
जिलापूर्ति अधिकारी अनंत प्रताप सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी डॉ.दिनेश चंद्र के निर्देश पर पात्रता की श्रेणी में न आने वाले लोगों से राशन कार्ड सरेंडर करने की अपील की गई थी। पयागपुर तहसील क्षेत्र के तीन सौ से अधिक लोगों ने राशन कार्ड सरेंडर कर दिया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही राशनकार्ड धारकों का सत्यापन कराने के लिए टीम का गठन किया जाएगा। इसके बाद पात्रता जांची जाएगी।अपात्र मिलने पर नियमानुसार कार्रवाई के साथ ही खाद्यान्न की वसूली भी होगी।

लोगों को किया जा रहा जागरूक
एसडीएम पयागपुर दिनेश कुमार ने बताया कि ग्राम स्तरीय अधिकारियों, कोटेदारों को निर्देश दिए गए हैं कि लोगों को पात्रता की श्रेणी की जानकारी देकर उन्हें नियमों के प्रति जागरूक करें। इसका असर दिखाई दे रहा है।

यह लोग होंगे अपात्र
ग्रामीण स्तर पर सभी आयकर दाता ऐसे परिवार जिसके किसी भी सदस्य के पास चार पहिया वाहन, ट्रैक्टर, हार्वेस्टर, एसी, पांच केवी या उससे अधिक क्षमता का जनरेटर है। इसके अलावा किसी सदस्य के पास पांच एकड़ से अधिक सिंचित जमीन है, सदस्यों की आय दो लाख रुपये प्रति वर्ष से अधिक हो, एक से अधिक शस्त्र लाईसेंस हों।ऐसे लोग अपात्रता की श्रेणी में आएंगे।

खबरें और भी हैं...