पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57491.51-2.62 %
  • NIFTY17149.1-2.66 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486500.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)64467-0.29 %

बहराइच में कतर्नियाघाट पर पर्यटन सत्र शुरू:बच्चों ने की सैर, घड़ियाल और मगरमच्छ के बच्चे को देखा

बहराइच2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बच्चों ने कतर्निया की खूबसूरती को देखा। - Money Bhaskar
बच्चों ने कतर्निया की खूबसूरती को देखा।

बहराइच में कतर्नियाघाट में सोमवार से पर्यटन सत्र की शुरूआत हो चुकी है। इको अवैयरनेस सेंटर के मुख्य द्वार पर फीता काटकर पर्यटन सत्र की शुरूआत की गई। कतर्नियाघाट रेंजर रामकुमार, रेंजर सुजौली प्रमोद श्रीवास्तव, रेंजर निशान गाड़ा राधेश्याम सहित समस्त वन कर्मियों ने बच्चों का स्वागत किया। इस मौके पर रेंजर कतर्निया रामकुमार ने बच्चों को जंगल का भ्रमण कराकर कतर्निया की प्राकृतिक छठा का लुफ्त उठाया।

बच्चों ने इस दौरान घड़ीयाल बाड़े में पल रहे घड़ियाल और मगरमच्छ के बच्चे को देखा। बच्चों को कैन्टीन में चाय, नाश्ता और खाना खिलाया गया। इस दौरान रेंजर कतर्निया घाट ने बच्चों को जलीय जीवों और वन्य जीवों के बारे में जानकारी दी गई।

क्लोजर के चलते नहीं हो सकी बोटिंग

कतर्नियाघाट जंगल सफारी में बच्चे बोटिंग से अछूते रहे। पिछले कई दिनों से घाघरा बैराज पर क्लोजर के चलते गेरुआ नदी सूख गई है। जिससे बोटिंग का अरमान लेकर आए स्कूली बच्चों को निराशा हाथ लगी। बच्चों ने पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र रही गुदगुदी के पेड़ का भी आनंद लिया।

एक ही बोट के सहारे चल रहा पर्यटन सत्र

पिछले कई सत्रों से वन निगम एक ही बोट चला रहा है। जबकि एक बोट के सहारे पूरा पर्यटन सत्र चलाना सम्भव नही है। लोग बगैर बोटिंग किए ही वापस चले आते हैं। वन निगम हर साल बड़े-बड़े दावे करता है, लेकिन सारे दावे वन निगम के हवा हवाई साबित हो रहे हैं।

खबरें और भी हैं...