पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बागपत में ग्रामीणों ने खुद उठाया सफाई जिम्मा:जनप्रतिनिधियों से शिकायत के बाद नहीं हुई थी सफाई, अभियान में महिलाओं ने भी लिया हिस्सा

बागपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बागपत में ग्रामीणों ने गांव में फैली गंदगी को खुद ही साफ करने का जिम्मा उठाया है। ग्रामीणों ने गांव के प्रत्येक गली मोहल्लों को साफ किया है। महिलाओं ने भी इस पहल में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और गांव की सफाई में महत्वपूर्ण योगदान दिया।

बागपत जनपद का एक छोटा सा गांव तिगरी है। जहां पर गंदगी का अंबार लगा था। ग्रामीणों का कहना है कि जनप्रतिनिधियों से शिकायत करने के बाद भी सफाई अभियान नहीं चलाया गया। जिसके चलते गांव में गंदगी फैलने से संक्रमित बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया था।

गांव की गलियों में जगह-जगह गंदगी फैल गई थी। जिससे आने जाने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पढ़ता था।
गांव की गलियों में जगह-जगह गंदगी फैल गई थी। जिससे आने जाने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पढ़ता था।

गांव की गलियों की सफाई
ग्रामीण सचिन का कहना है कि गांव में हर गली में कीचड़ फैली थी। जिससे राहगीरों और ग्रामीणों को रास्ते से गुजरने में दिक्कत होती थी। इसकी शिकायत अधिकारियों से की गई। बावजूद इसके कभी सफाई नहीं कराई गई। जिसको लेकर ग्रामीणों ने खुद सफाई का जिम्मा ले लिया।

गांव के लोगों ने खुद ही नाली का पानी निकलने के लिए जुगाड़ किया साथ ही रास्ते को साफ किया।
गांव के लोगों ने खुद ही नाली का पानी निकलने के लिए जुगाड़ किया साथ ही रास्ते को साफ किया।

गंदगी फैलने से बढ़ रही थी बीमारी
ग्रामीण बृजपाल का कहना है कि गंदगी होने से बीमारियों का खतरा बढ़ रहा था। अगर सफाई नहीं होती तो लोग बीमार पड़ जाते। जिससे आम जन का भी खासा नुकसान होता। इस सफाई का जिम्मा हम सभी ग्रामीणों ने मिलकर उठाया है। सफाई अभियान में महिलाओं और बच्चों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

लोगों के घर के बीच का रास्ता जो नालियों के पानी से भर जाता था, जिसे यहां के लोगों ने खुद ही साफ किया।
लोगों के घर के बीच का रास्ता जो नालियों के पानी से भर जाता था, जिसे यहां के लोगों ने खुद ही साफ किया।
खबरें और भी हैं...