पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बागपत…आचार संहिता लागू होने के बाद भी हो रहा प्रचार:गली, हाईवे, गांवों पर दिख रहे नेताओं के पोस्टर, हटाने के बाद फिर से लगाए जा रहे

बागपत7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पेड़ों पर टंगे नेताओं के पोस्टर। - Money Bhaskar
पेड़ों पर टंगे नेताओं के पोस्टर।

विधानसभा चुनाव 2022 का बिगुल बज चुका है। आगामी 10 फरवरी को बागपत जनपद में मतदान होना है। चुनाव आचार संहिता भी लागू हो चुकी है। तीन दिन पहले आचार संहिता के लागू होने के बावजूद क्षेत्र में सार्वजनिक स्थानों पर नेताओं के बैनर-पोस्टर अभी तक नजर आ रहे हैं।

अधिकारी नहीं कर रहे कार्रवाई

बागपत में राष्ट्रीय राजमार्ग (709 बी) पर लगभग ज्यादातर जगहों पर प्रत्याशियों ने अपने प्रचार के होर्डिंग लगाए हुए हैं। राजमार्ग पर लगे साइन बोर्ड भी होर्डिंग से ढके नजर आते हैं। इसके अलावा मुख्य मार्गों समेत सभी पट्टी-चौराहे और गांव की गलियों में पोस्टर, होर्डिंग दिखाई दे रहे हैं। खुलेआम आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है। इसके बाद भी अधिकारी आंखे मूंदे बैठे हैं। लापरवाह कर्मचारियों पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

समर्थक फिर से लगा रहे पोस्टर

हालांकि थाना और विकासखंड स्तर पर बैठक और चौपाल लगाकर लोगों को आचार संहिता के पालन का पाठ पढ़ाया जा रहा है। लेकिन प्रत्याशियों और समर्थकों पर इसका कोई असर नहीं हो रहा है। कहीं-कहीं तो ऐसा है कि अधिकारी बैनर-पोस्टर हटा कर जा रहे हैं, उसके बाद प्रत्याशी समर्थक फिर से उन्हें लगाए दे रहे हैं।