पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निजामाबाद के बड़ागांव में सांड का आतंक:महिला को बनाया शिकार, दर्जनभर लोगों को कर चुका है घायल; किसानों ने खेती करना छोड़ा

निजामाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों ने बताया कि सांड ने कई गाँवों के लोगों को मारकर घायल कर चुका है। - Money Bhaskar
ग्रामीणों ने बताया कि सांड ने कई गाँवों के लोगों को मारकर घायल कर चुका है।

निजामाबाद तहसील क्षेत्र के हुसामपूर बड़ागाँव में एक सांड ने आतंक मचा रखा है। सांड ने आज एक महिला पर हमलावर हो गया, जिससे महिला को काफी गंभीर चोट आई है। ग्रामीण महिला को इलाज के लिए अस्पताल ले गए जहां उसको 24 टांके लगाए गए और इलाज जारी है।

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को महिला कुसुम देवी किसी काम से बाहर निकली थी, जिसपर आवारा सांड ने हमला कर दिया। सांड को हमलावर होता देख ग्रामीणों ने शोर मचाकर महिला को छुड़ाया, लेकिन तब तक वह महिला को गंभीर रूप से घायल कर चुका था। स्थानीय लोगों ने घायल महिला को संजरपुर हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां उसकी चोट पर 24 टाँके लगाए गए हैं और इलाज चल रहा है।

गांव वालों ने बाहर निकलना छोड़ा
ग्रामीणों ने बताया कि सांड ने कई गाँवों के लोगों को मारकर घायल कर चुका है। बुजुर्ग पखण्डी तिवारी को मारकर हाथ पैर कमर सब तोड़ दिया है, जिसके कारण वह महीनों से बिस्तर पर हैं। उक्त साड़ ने अब तक कुसुम देवी, जितेंद्र उपाध्याय, शत्रुधन तिवारी उर्फ पखण्डी बाबा, आदित्य प्रसाद मिश्र, पंकज मिश्र, मंटू मिश्र, शिवदत्त की पत्नी आदि दर्जनों लोगों को मार कर घायल कर चुका है। सांड के आतंक से गांव वालों ने बाहर सोना छोड़ दिया हैं। गाँव के दर्जनों किसानों ने सब्जियों की खेती करना बंद कर दिया है। वहीं ग्राम पंचायत सदस्य अमरेज कुमार ने आज की घटना को देखते हुए उपजिलाधिकारी को लिखित सूचना देकर हिंसक हुए सांड को वन विभाग के अधिकारियों से पकड़वा कर किसी गोशाला में रखवाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...